नई दिल्ली / दिल्ली के 14 लाख परिवारों को इस महीने ज़ीरो रुपए का बिजली का बिल आया: केजरीवाल

News18 : Oct 10, 2019, 04:08 PM

नई दिल्ली. दिल्ली सरकार (Delhi Government) ने एक डाटा (Data) जारी किया है, जिसमें 200 यूनिट तक मुफ्त बिजली योजना के पहले महीने में ही 14 लाख लोगों का बिजली बिल शून्य (Zero Electricity Bill) आया है. दिल्ली सरकार का दावा है कि यह संख्या बिजली उपभोक्ताओं (Electricity Consumers) की कुल संख्या का 28 प्रतिशत है. सरकार के मुताबिक, अगले महीने से इसकी संख्या में और कमी आएगी क्योंकि अब दिल्ली में मुख्यमंत्री (Delhi Chief Minister) किरायेदार बिजली मीटर योजना भी शुरू हो चुकी है. इससे किरायेदारों के अलग बिजली मीटर लगेंगे जो प्री-पेड होंगे. इस योजना का मकान मालिक भी लाभ उठा सकेंगे.

बता दें कि दिल्ली विधानसभा चुनाव (Delhi Assembly Election 2019) का ऐलान किसी भी समय हो सकता है. ऐसी संभावना बन रही है कि जनवरी 2020 में दिल्ली विधानसभा का चुनाव हो सकता है. इसे ध्यान में रखते हुए सत्तासीन आम आदमी पार्टी (आप) ने अपनी योजनाओं का प्रचार-प्रसार करना शुरू कर दिया है. केजरीवाल सरकार अपनी योजनाओं का प्रचार-प्रसार सोशल मीडिया के जरिए भी खूब कर रही है. बीते 1 अगस्त को सीएम अरविंद केजरीवाल ने दिल्लीवालों के लिए 200 यूनिट तक बिजली बिल मुफ्त करने का ऐलान किया था. केजरीवाल के ऐलान के बाद दिल्ली में यह योजना तत्काल लागू हो गई थी.

ऊर्जा विभाग ने इस योजना में लाभ पाने वालों की एक रिपोर्ट अरविंद केजरीवाल को सौंपी है. यह रिपोर्ट सितंबर महीने की है. इसमें बताया गया है कि दिल्ली में कुल 52, 27, 857 बिजली उपभोक्ता हैं, जिनमें से सितंबर महीने में 14, 64, 270 उपभोक्ताओं का बिजली बिल शून्य आया है. दिल्ली में बिजली आपूर्ति करने वाली तीनों कंपनियों ने अलग-अलग आंकड़े जारी किए हैं. बीएसइएस राजधानी पावर लिमिटेड (BRPL) के पास सबसे अधिक 22,03,536 उपभोक्ता हैं. इसमें से 6,14,910 उपभोक्ताओं का बिजली बिल शून्य आया है. बीएसइएस यमुना पावर लिमिटेड (BYPL) के पास 13,05,137 उपभोक्ता हैं, इसमें से 3,78,993 उपभोक्ताओं का बिजली बिल शून्य आया है. इसी तरह टाटा पावर दिल्ली डिस्ट्रीब्यूशन लिमिटेड (TPDDL) के पास 17,19,184 उपभोक्ता हैं. इसमें से 4,70,367 उपभोक्ताओं का बिजली बिल शून्य आया है.

अगर बिजली आपूर्ति करने वाली तीनों कंपनियों के डाटा पर गौर करें तो बीएसइएस राजधानी पावर लिमिटेड ने 28 प्रतिशत, बीएसइएस यमुना पावर लिमिटेड 29 प्रतिशत और टाटा पावर दिल्ली डिस्ट्रीब्यूशन लिमिटेड के 27 प्रतिशत उपभोक्ताओं के बिजली बिल शून्य आए हैं. गुरुवार को सीएम अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट कर इस बात की जानकारी दी है.

दिल्ली में मासिक 200 यूनिट बिजली खपत पर कोई बिल नहीं

बता दें कि दिल्ली सरकार की इस योजना के तहत मासिक 200 यूनिट बिजली खपत होने पर उपभोक्ताओं को बिजली बिल के रूप में कोई भुगतान नहीं करना पड़ेगा. दिल्ली सरकार इस कैटेगरी के उपभोक्ताओं को 100 प्रतिशत छूट दे रही है. यदि उपभोक्ता का 201 से 401 यूनिट तक बिजली खपत है तो इस पर उसे 50 प्रतिशत सब्सिडी मिलेगी.