राज्य / राजस्थान में अडानी समूह करेगा डेटा सेंटर और सोलर एनर्जी में 6 हजार करोड़ निवेश

Zoom News : Aug 15, 2019, 08:32 AM

जयपुर। अतिरिक्त मुख्य सचिव डॉ. सुबोध अग्रवाल ने कहा है कि प्रदेश में तेजी से औद्योगिक निवेश का माहौल बनने लगा है। उन्होंने कहा कि बड़े औद्योगिक प्रतिष्ठान विस्तार कार्यक्रमों में भी राजस्थान को प्राथमिकता दे रहे हैं।

डॉ. अग्रवाल बुधवार को यहां उद्योग भवन के ब्यूरो ऑफ इंवेस्टमेंट प्रमोशन में आयुक्त बीआइपी गौरव गोयल के साथ संवाद कार्यक्रम के तहत अदानी समूह के प्रतिनिधियों से औद्योगिक निवेश, विस्तार कार्यक्रम व रोजगार सृजन बढ़ाने पर चर्चा कर रहे थे। इस अवसर पर अदानी समूह ने प्रदेश में डेटा सेंटर और सोलर एनर्जी क्षेत्र में करीब 6 हजार करोड़ के नए निवेश में रुचि दिखाई है।

विचार विमर्श के दौरान अदानी वाइस प्रेसिडेंट श्री आर.के जैन और अदानी डेटा सेेंटर के सीनियर वाइस प्रेसिडेंट पंकज सिंह ने बताया कि राजस्थान और गुजरात सोलर एनर्जी के उत्पादन के लिए उपयुक्त होने के साथ उनका समूह राजस्थान में डेटा सेंटर स्थापित करना चाहता है। उन्होंने बताया कि आगामी 5 से सात साल में 100 मेगावाट डेटा सेंटर प्रदेश में लगाया जाना प्रस्तावित है। इसके लिए जयपुर के आस-पास या प्रदेश के अन्य स्थान पर भूमि उपलब्ध कराने का आग्रह किया। उन्होंने बताया कि इससे प्रदेश में करीब 3500 लोगों को प्रत्यक्ष व अप्रत्यक्ष रोजगार उपलब्ध हो सकेगा।

अदानी समूह के प्रतिनिधियों ने बताया कि देश में राजस्थान सहित गुड़गांंव, दिल्ली, मुंबई, हैदराबाद, चैन्नई आदि में डेटा सेंटरों से आईटी सेक्टर में उल्लेखनीय नेटवर्क स्थापित हो सकेगा। उन्होंने प्रदेश मेें 20 एकड़ भूमि की आवश्यकता होगी।

बीआईपी आयुक्त गौरव गोयल ने अदानी समूह से भूमि के लिए स्थान का चयन कर प्रस्ताव प्रस्तुत करें ताकि डेटा समूह की स्थापना के लिए भूमि की उपलब्धता सुनिश्चित की जा सके। उन्होंने यह भी बताया कि रीको ने ई बिडिंग की पारदर्शी व्यवस्था भी सुनिश्चित की है जिसके अच्छे परिणाम प्राप्त होने लगे हैं। बैठक में डेटा सेंटर के लिए जयपुर के साथ ही जोधपुर, उदयपुर, बीकानेर, फलोदी आदि में संभावना तलाशने का सुझाव दिया गया।

बैठक में संयुक्त निदेशक संजय मामगेन ने बताया कि सीधे संवाद में वर्तमान स्थिति व भावी निवेश संभावनाओं पर विचार विमर्श किया जा रहा है। इस अवसर पर ब्यूरो ऑफ इंवेस्टेमेंट प्रमोशन के नागेश शर्मा व अन्य अधिकारी भी उपस्थित रहे।

गौरतलब है कि इससे पहले हीरो मोटो क्रोप, यजाकी, चंबल फर्टिलाइजर, आरएसड्ब्लूएम सहित कई प्रमुख औद्योगिक प्रतिष्ठानों से बारी बारी से विस्तार कार्यक्रम आदि पर विस्तार से चर्चा की जा चुकी है।