जयपुर / युवती की गोली मारकर हत्या फिर खुद आत्महत्या करने के मामले में युवक की अस्पताल में मौत

Dainik Bhaskar : Nov 13, 2019, 04:01 PM

जयपुर. राजस्थान की राजधानी जयपुर में मंगलवार युवकी की गोली मारकर हत्या करने के मामले में युवक की भी बुधवार सुबह इलाज के दौरान मौत हो गई। युवक ने युवती के सिर में गोली मार हत्या करने के बाद खुद की कनपटी पर गोली मार ली। जिसके बाद से घायल गोविंद सोनी का एसएमएस अस्पताल में इलाज चल रहा था।

मंगलवार को हुई थी दिल दहलाने वाली घटना

श्रीराम नगर एक्सटेंशन निवासी अमित के घर के पास मंगलवार दोपहर में करीब साढ़े बारह बजे वारदात हुई थी। लोगों ने बताया कि कार तेजी से आई ओर अचानक ब्रेक लगाकर रोक दी। कार में सवार गोविंद ने वर्षा के सिर में पीछे से गोली मारी। जो सिर को चीरती हुई आंख के पास निकल गई। उसके बाद गोविंद ने खुद की कनपटी में गोली मारी, जो सिर के अंदर फंस गई। अमित ने बताया कि घर में स्थित दुकान बढ़ाकर पूजा-पाठ कर रहा था। इस दौरान हल्ला सुनकर बाहर आया तो देखा की दोनों लहूलुहान पड़े थे।

प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया- हुआ क्या था

घटनास्थल के पास रहने वाली गोविंद की बहन की सास माया ने बताया- मैं गेट के बैठी थी। तभी एक कार बहुत तेज रफ्तार से गई थी। कार को देखकर बहू से बोली कि अपनी कार इतनी तेजी से कौन ले जा रहा है। गोविंद के जीजा नरेश ने बताया- घर में कार खड़ी करने की जगह नहीं होने के कारण 15 दिन से कार गोविंद को दे रखी थी। इन दिनों गोविंद कोई काम नहीं कर रहा है। तीन भाईयों में सबसे छोटा है ओर पांच बहने है। नरेश खुद ज्वेलरी शॉप चलाते है। मंगलवार दोपहर में जैसे ही खाना खाने के लिए घर आ रहे थे, तब गली भीड़ देखी जिसके बीच उनकी कार खड़ी थी। वहां जाकर देखा तो साला गोविंद व एक युवती खून से लतपथ पड़े थे। उसके बाद पड़ोसी भानू प्रताप सिंह की कार से दोनों को अस्पताल पहुंचाया।

वर्षा के पिता राजेश सोनी ने बताया कि गोविंद पड़ोस वाली कॉलोनी में ही रहता है। कुछ दिन पहले बेटी से शादी की बात सामने आई तो मना कर दिया, क्योंकि गोविंद अपराधी किस्म का है। कुछ साल पहले एक लड़की के चेहरे पर तेजाब डालने के मामले में जेल जा चुका था। ऐसे में मेरी बेटी से शादी के लिए कैसे हां कर देता। वह कुछ काम भी नहीं करता। बीस दिन पहले गोविंद के परिवार वाले बेटी की शादी के लिए बात करने आए थे। तब भी मना कर दिया था। गोविंद ने घर आकर शादी नहीं करने पर मार डालने की धमकी दी। वर्षा दोपहर में फल खरीदने गई थी। तभी गोविंद पहुंचा ओर वर्षा को बात करने के बहाने कार में बैठाकर तेजी से भगाकर ले गया।