देश / आखिरकार मिल गया 'कोरोना वायरस का तोड़', 30 सेकंड में खत्म होगा Coronavirus

AajTak : Feb 13, 2020, 04:43 PM

वर्ल्ड डेस्क | कोरोनावायरस (Coronavirus) कोविड 19 (Covid 19) से अब तक पूरी दुनिया में 60,108 लोग संक्रमित हो चुके हैं। 1363 लोग मारे जा चुके हैं। कुल संक्रमित लोगों में से 59,539 लोग सिर्फ चीन में हैं। जबकि, 1361 लोग चीन में ही मर चुके हैं। अब जर्मनी के वैज्ञानिकों ने बताया है कि कैसे कोरोनावायरस को खत्म किया जाए? उसे कैसे मारा जाए? 

जर्मनी के रूह्र यूनिवर्सिटी (Ruhr University) और ग्रीफ्सवॉल्ड यूनिवर्सिटी ने वैज्ञानिकों ने मिलकर कोरोनावायरस (Coronavirus) पर एक स्टडी की है। इन्होंने अब तक कोरोनावायरस (Coronavirus) पर हुए दो दर्जन अध्ययनों को भी पढ़ा। फिर उन्होंने पता किया कि कोरोनावायरस को कैसे खत्म कर सकते हैं। कैसे उसे मार सकते हैं।

जर्मनी के वैज्ञानिकों के अध्ययन के अनुसार कोरोनावायरस (Coronavirus) को जिस तरीके खत्म किया जा सकता है उसमें सबसे प्रमुख है खुद का बचाव। कोरोनावायरस को डिसइंफेक्टेंट की मदद से खत्म किया जा सकता है। इस अध्ययन में बताया गया है कि कोरोनावायरस (Coronavirus) 30 डिग्री सेल्सियस या इससे ज्यादा तापमान में जीवित रहने असहज हो जाता है। जैसे-जैसे तापमान बढ़ता है वायरस निष्क्रिय होता चला जाता है। यानी 30 डिग्री सेल्सियस तापमान या उससे ज्यादा होने पर कोरोना की ताकत कम होने लगती है। 

कोरोनावायरस को डिसइंफेक्टेंट की मदद से खत्म किया जा सकता है। अल्कोहल से कोरोनावायरस को एक मिनट में खत्म किया जा सकता है। जबकि, ब्लीच की मदद से इसे मात्र 30 सेकंड में खत्म कर सकते हैं। जर्मनी के वैज्ञानिकों के अनुसार कोरोनावायरस बाकी प्लू वायरस की तुलना में करीब चार गुना ज्यादा समय तक जिंदा रहता है। साधारण फ्लू के वायरस 2-3 दिन जिंदा रहते हैं। लेकिन कोरोनावायरस उनसे चार गुना ज्यादा जिंदा रह सकता है।

कोरोनावायरस सिर्फ जीवित ही नहीं बल्कि निर्जीव वस्तुओं पर भी लंबे समय तक जिंदा रहता है। यानी लकड़ी, ग्लास, प्लास्टिक या धातु से बनी किसी भी वस्तु पर यह 9 दिनों तक जिंदा रह सकता है। मतलब ये है कि ऐसे वस्तुओं से भी सावधानी बरतने की जरूरत है।  जर्मन वैज्ञानिकों के अध्य्यन में यह खुलासा भी हुआ है कि अगर तापमान 4 डिग्री या उससे कम रहता है तो कोरोनावायरस एक महीने से भी ज्यादा समय तक जिंदा रह सकता है। अगर निर्जीव वस्तुओं को भी डिसइंफेक्टेंट से साफ करें तो संक्रमण का खतरा कम हो जाता है। 

कोरोनावायरस 15 सेकंड में ही स्वस्थ इंसान को संक्रमित कर सकता है। लेकिन जर्मनी के वैज्ञानिकों के अधय्यन के अनुसार अभी यह नहीं पता चल पाया है कि कोरोनावायरस निर्जीव वस्तुओं से इंसानों में कितनी देर में फैलता है। 

विश्व स्वास्थ्य संगठन ने दुनियाभर में सलाह जारी की है कि कोरोनावायरस के संक्रमण से बचने के लिए लोग लगातार अल्कोहल से हाथ धोएं। मास्क लगाकर रखें। कोशिश करें कि N-99 मास्क हो। क्योंकि हाल ही में चीन के वैज्ञानिकों ने कहा था कि यह अब हवा में भी फैल रहा है।