जापान / चांद की सैर करने के लिए यह अरबपति खोज रहे हैं गर्लफ्रेंड, दिया विज्ञापन

News18 : Jan 13, 2020, 02:49 PM

टोकियो।  जापान के मशहूर अरबपति और ऑनलाइन फैशन रिटेलर ज़ोज़ो (Zozo) के सीईओ यूसाको माएजावा (Yusaku Maezawa) चांद की सैर पर जाने वाले दुनिया के पहले पर्यटक होंगे।  जल्द ही वे अमेरिका की प्राइवेट स्पेस कंपनी 'स्पेसएक्स रॉकेट'  से चांद पर घूमने जाने वाले हैं।  हालांकि, यूसाको माएजावा इस मून ट्रिप पर अकेले नहीं जाना चाहते।  इस शानदार और रोमांचक सफर के लिए वह एक गर्लफ्रेंड तलाश रहे हैं।  इसके लिए उन्होंने बाकायदा ऑनलाइन विज्ञापन भी दे दिया है। 

यूसाको माएजावा ने हाल ही में जापानी एक्ट्रेस के साथ ब्रेक-अप की बात कंफर्म की थी।  इसके बाद अब फिर से वह रिलेशनशिप में जाने को तैयार हैं।  मून ट्रिप को बहुत खास बनाने के लिए उन्होंने इंटरनेट पर जो एड दिया है, उसके मुताबिक माएजावा की गर्लफ्रेंड बनने के लिए लड़की की उम्र 20 साल से ज्यादा होनी चाहिए।  लड़की बहुत खूबसूरत और सिंगल होनी चाहिए।  साथ ही वो जिंदादिल भी हो। 

एक टीवी शो में यूसाको माएजावा ने ये बात कही।  उन्होंने कहा, 'जिंदगी के इस पड़ाव में आकर मैं कुछ अकेलापन सा महसूस कर रहा था।  इसलिए मैंने चांद की सैर करने का फैसला लिया।  बचपन से मुझे चांद से प्यार है।  यह मेरे जीवन भर का सपना है'। 

एड में क्या लिखा है?

एड में माएजावा ने लिखा, 'मैंने जैसा चाहा, अब तक वैसी जिंदगी जी है।  आगे भी वैसे ही जीना चाहता हूं। ' तीन बच्चों के पिता माएजावा आगे लिखते हैं, 'मैं अभी 44 का हूं।  धीरे-धीरे मेरे अंदर एक खालीपन और अकेलापन घर कर रहा हूं।  एक चीज है, जिसके बारे में मैं सोच पा रहा हूं: वो है एक महिला से प्यार। जिंदगी के खालीपन को भरने के लिए ये जरूरी है। ' यूसाको माएजावा ने अपने एड को लेकर एक ट्वीट भी किया, 'चांद पर सैर करने वाली पहले महिला क्यों न बना जाए?' कब है अप्लाई करने की आखिरी तारीखयूसाको माएजावा की गर्लफ्रेंड बनने के लिए अप्लाई करने की आखिरी तारीख 17 जनवरी 2020 है।  इसके बाद शॉर्टलिस्ट किए गए लड़कियों का इंटरव्यू होगा, जिसके बाद फाइनल गर्लफ्रेंड चुनी जाएगी। 

कब होगी मून ट्रिप?

यूसाको माएजावा साल 2023 के नवंबर-दिसंबर में चांद की सैर पर जाएंगे।  एलन मस्क की कंपनी SpaceX सारी तैयारियां कर रही है।  माएजावा अपनी इस ट्रिप पर आर्टिस्ट को भी साथ ले जाना चाहते हैं। 

साल 1972 के आखिरी अमेरिकी अपोलो मिशन के बाद से जापान के अरबपति यूसाको माएजावा (Yusaku Maezawa) चांद की यात्रा करने वाले पहले यात्री होंगे।  उन्होंने ये विशेषाधिकार हासिल करने के लिए कितनी रकम चुकाई है, उसका खुलासा फिलहाल नहीं किया गया है। 


SUBSCRIBE TO OUR NEWSLETTER