इंडिया / झारखंड में बोले- 100 दिन के अंदर ही देश ने दमदार सरकार का ट्रेलर देखा, फिल्म बाकी है

AMAR UJALA : Sep 12, 2019, 02:51 PM

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी झारखंड के शहर रांची पहुंच गए हैं। उन्होंने यहां नए झारखंड विधानसभा के नई भवन का उद्घाटन किया। इसके बाद प्रधानमंत्री ने प्रधानमंत्री किसान मानधन योजना का शुभारंभ किया। प्रधानमंत्री ने कई विकास परियोजनाओं का भी उद्घाटन किया।

हमारी सरकार हर भारतवासी को सामाजिक सुरक्षा का कवच देने का प्रयास कर रही है। इस वर्ष मार्च से ऐसी ही पेंशन योजना देश के करोड़ों असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों के लिए चल रही है। अब तक इस श्रमयोगी मानधन योजना से 32 लाख से ज्यादा श्रमिक साथी जुड़ चुके हैं।

विकास हमारी प्राथमिकता भी है और हमारी प्रतिबद्धता भी है। विकास का हमारा वादा भी अटल इरादा है। आज जितनी तेजी से देश चल रहा है उतनी तेजी से पहले कभी नहीं चला।

आपने इस बार संसद के सत्र को लेकर भी काफी कुछ सुना और देखा होगा। इस बार जिस तरह संसद चली, उसे देखकर आपको अच्छा लगा होगा। वो इसलिए क्योंकि इस बार संसद का मानसून सत्र, देश के इतिहास में सबसे ज्यादा उत्पादक सत्रों में से एक रहा है।

आज का दिन झारखंड के लिए ऐतिहासिक है क्योंकि आज यहां विधानसभा के नए भवन का लोकार्पण किया गया है। राज्य बनने के लगभग दो दशक बाद आज झारखंड में लोकतंत्र के मंदिर का लोकार्पण हो रहा है।

हमारा संकल्प है- जनता को लूटने वालों को उनकी सही जगह पहुंचाने का।  इस पर भी बहुत तेजी से काम हो रहा है, कुछ लोग तो अंदर चले भी गए हैं।

हमारा संकल्प है- आतंकवाद के खिलाफ निर्णायक लड़ाई का। पहले 100 दिन में ही आतंक रोधी कानून को और मजबूत किया गया है। हमारा संकल्प है- जम्मू कश्मीर और लद्दाख को विकास की नई ऊंचाई पर पहुंचाने का। हमने 100 दिन के भीतर ही इसकी शुरुआत भी कर दी है।

आज देश के लगभग 6.50 करोड़ किसान परिवारों के खाते में पीएम किसान सम्मान निधि के अंतर्गत 21 हजार करोड़ रुपये से अधिक की धनराशि पहुंच चुकी है। इसमें 8 लाख किसान परिवार झारखंड के भी हैं जिनके खाते में करीब 250 करोड़ रुपये जमा हो चुके हैं।

चुनाव के समय मैंने आपसे कामदार और दमदार सरकार देने का वादा किया था। एक ऐसी सरकार जो पहले से भी ज्यादा तेज गति से काम करेगी, एक ऐसी सरकार जो आपकी आकांक्षाओं को पूरा करने के लिए पूरी ताकत लगा देगी। बीते 100 दिन में देश ने इसका ट्रेलर देख लिया है, अभी फिल्म बाकी है।

ये जल मार्ग झारखंड को पूरे देश से ही नहीं, बल्कि विदेश से भी जोड़ेगा। इस टर्मिनल से यहां के आदिवासी भाई-बहनों को, किसानों को अपने उत्पाद अब पूरे देश के बाजारों में और आसानी से पहुंच पाएंगे।

आज मुझे साहिबगंज मल्टी-मॉडल टर्मिनल का उद्घाटन करने का सौभाग्य भी मिला है। ये सिर्फ एक और प्रोजेक्ट नहीं है,

बल्कि इस पूरे क्षेत्र को परिवहन का नया विकल्प दे रहा है। आज पूरे देश के करोड़ों किसानों के लिए पेंशन सुनिश्चित करने वाली 'प्रधानमंत्री किसान मानधन योजना' की शुरुआत भी भगवान बिरसा मुंडा की इस महान धरती से हो रही है। देश के करोड़ों व्यापारियों और स्व-रोजगारियों के लिए राष्ट्रीय पेंशन योजना की शुरुआत भी यहीं से हो रही है। 

नई सरकार बनने के बाद जिन कुछ राज्यों में मुझे सबसे पहले जाने का अवसर मिला, उनमें से झारखंड भी है। यही प्रभात तारा मैदान था, सुबह का समय और हम सभी योग कर रहे थे और बारिश भी हमें आशीर्वाद दे रही थी। यही वो मैदान है जिससे आयुष्मान भारत योजना शुरु हुई थी।

आज झारखंड की पहचान में एक और बात जोड़ने का मुझे सौभाग्य मिला है। आपके झारखंड की नई पहचान बनने जा रही है कि ये वो राज्य है जो गरीब और आदिवासियों के हितों की बड़ी योजनाओं का लॉन्चिंग पैड है।