बिजनेस / LIC नुकसान में नहीं, निवेशकों का पैसा पूरी तरह सुरक्षित : दिल्ली जोनल मैनेजर

Zoom News : Sep 26, 2019, 02:57 PM
माउंट आबू | भारतीय जीवन बीमा निगम (LIC) ने सोशल मीडिया में चल रही उन खबरों को सिरे से खारिज किया है जिनमें यह कहा जा रहा है कि भारतीय जीवन बीमा (Life Insurance Corporation) नुकसान में चल रही है। एलआईसी, दिल्ली के जोनल मैनेजर अनूप कुमार ने सोशल मीडिया में इस प्रकार की खबरों को बेबुनियाद बताया है। उन्होंने कहा कि भारतीय जीवन बीमा निगम पिछले 64 साल से इकलौती ऐसी संस्था है जो सिर्फ लाभ में है और आज तक नुकसान में नहीं आई है।  

भारत सरकार की सबसे प्रमुख बीमा क्षेत्र की कंपनी भारतीय जीवन बीमा निगम के उत्तर क्षेत्र दिल्ली के प्रमुख क्षेत्रीय प्रबंधक अनूप कुमार ने भारतीय जीवन बीमा निगम के बारे में सोशल मीडिया पर फैलाई जा रही अफवाहों से दूर रहने की बात कही उन्होंने कहा कि यह देश का सबसे मजबूत पिलर है इसे हिलाया नहीं जा सकता जिसके 31 लाख 12 हजार करोड़ की संपत्तियां 2019 तक दर्ज हैं

भारतीय जीवन बीमा निगम के एक वरिष्ठ अधिकारी ने सोशल मीडिया की उन खबरों को सिरे से खारिज कर दिया है जिसमें यह कहा गया है कि भारतीय जीवन बीमा निगम नुकसान में चल रही है। एलआईसी आफ इंडिया , दिल्ली के जोनल मैनेजर अनूप कुमार ने राजस्थान के इकलौते हिल स्टेशन माउंटआबू में कहा कि भारतीय जीवन बीमा निगम के पास किसी भी निवेश संस्था के मुकाबले दुनिया में सबसे ज्यादा निवेशक है और पिछले 64 साल से मुनाफे में है। उन्होने कहा कि एलआईसी के पास इतनी संपत्तियां है कि इसके नुकसान में आने का प्रश्नन ही नहीं उठता है।

माउंट आबू में पत्रकारों से बातचीत करते हुए अनूप कुमार ने कहा कि बीमा क्षेत्र में हमारा शेयर पॉलिसी में 74 पॉइंट 71 तक पहुंच चुका है और देश की सबसे बड़ी कंपनी है 1956 में 168 ऑफिस वाली है कंपनी आज 4851 कार्यालय हैं एक लाख कर्मचारी 11 पॉइंट 7 9 लाख एक करोड़ 13 लाख रजिस्टर्ड उपभोक्ता और 1956 में 5 करोड़ से शुरुआत करने वाली यह कंपनी आज अपने देश के उच्चतम शिखर पर है

माउंटआबू के एक प्रेस कांफ्रेंस में उन्होंने कहा कि एलआईसी का स्थान अलग है। एलआईसी के पास 30 करोड़ से ज्यादा पालिसी है।एलआसी की पूरी पालिसी कुल मिलाकर 40 करोड़ हो जाती है जिसकी वह सर्विस देती है। एलआईसी भारतीय हर साल बाजार में निवेश में करती है और हर साल लाभ कमाती है। 31 अगस्त 2019 तक के इस साल के आंकड़े को हम देखे तो हम पिछले साल के मुकाबले ज्यादा लाभ कमा चुके हैं। भारतीय जीवन बीमा निगम के नुकसान में आने का सवाल ही नहीं है। क्योंकि एलआईसी एक तयशुदा एक्ट के तहत संचालित होता है और हम करोड़ों लोगों को निवेश को लेकर भरोसा जीत चुके है। भारतीय जीवन बीमा निगम 1956 में शुरू हुई थी और उस वक्त के मुकाबले अब इसकी बहुत संपत्ति हो गई है। एलआईसी के पास 31 लाख 10 हजार  करोड़ की संपत्ति है । पिछले साल 11 हजार करोड़ का मुनाफा कमाया है। उन्होंने कहा कि भारतीय जीवन बीमा निगम 40 करोड़ निवेशकों का भरोसा जीत चुकी है। निवेशक इसलिए पैसा लगाते है कि उन्हें अपने पैसा और रिटर्न का भरोसा होता है।

अनूप कुमार ने कहा कि भारतीय जीवन बीमा निगम अपने प्लान के तहत हर सेगमेंट को कवर करती है। हमारे पास समाज के हर सेगमेंट के लिए प्लान होता है। हम हर पालिसी के जरिए यह सुनिश्चित करते है कि उसका लाभ ज्यादा से ज्यादा निवेशक को मिले। अनूप कुमार ने माउंटआबू को रमनीक स्थान बताया है और कहा कि उन्हें यह जगह पसंद आई।