राजनीतिक / राजस्थान से राज्यसभा चुनाव में मनमोहनसिंह की जीत तय, यह है बड़ी वजह

Zoom News : Aug 16, 2019, 05:07 PM

जयपुर। देश के पूर्व प्रधानमंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मनमोहनसिंह का राजस्थान से राज्यसभा सांसद बनना लगभग तय हो गया है। उनके द्वारा दाखिल किए गए चारों नामांकन पत्र सही पाए गए हैं। वहीं बीजेपी अथवा अन्य किसी दल ने उनके सामने प्रत्याशी ही नहीं उतारा। ऐसे में यदि मन मोहन खुद का नाम वापस नहीं लेते हैं तो उनका यहां से राज्यसभा सांसद बनना तय है। वे पूर्व में असम से पांच बार राज्यसभा सदस्य रह चुके हैं। हालांकि अब तक के देश के प्रधानमंत्रियों में मनमोहनसिंह एकमात्र ऐसे नेता रहे हैं जो कभी लोकसभा सांसद नहीं बन पाए हैं। वे असम से 1991 से 2019 जून तक राज्यसभा सांसद रहे। राजस्थान से राज्यसभा की एक सीट के लिए होने वाले उप चुनाव के लिए एकमात्र प्रत्याशी मनमोहनसिंह द्वारा भरे गये चार नामांकन पत्रों की शुक्रवार को विधानसभा में जांच की गयी जिसमें नामांकन पत्र सही पाये गये।

निर्वाचन अधिकारी प्रमिल कुमार माथुर ने बताया कि भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस पार्टी के डॉ. मनमोहन सिंह के चार नामांकन पत्रों की निर्वाचन अभिकर्ताओं के समक्ष बारीकी से जांच की गयी। नामांकन पत्रों की जांच पर्यवेक्षक, मुख्य निर्वाचन अधिकारी आनन्द कुमार एवं प्रत्याशी के प्रस्थापक डॉ. महेश जोशी की मौजूदगी में की गयी। निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार नामांकन पत्रों की जांच की वीडियोग्राफी भी की गई।