नासिक / नासिक में कश्मीर पर बोले पीएम कहा अब हर हिंदुस्तानी कहेगा कश्मीर हमारा है

NDTV : Sep 19, 2019, 05:02 PM

महाराष्ट्र: इस दौरान पीएम मोदी ने कहा, ''नासिक की ये पवित्र धरती, महाराष्ट्र के कोटि कोटि जन मुझे आशीर्वाद दें जिससे इसकी इज्जत के लिए में अपनी जिंदगी खपा सकूं. आज मैं देख रहा हूं कि अप्रैल की रिकॉर्डतोड़ रैली से यह हमारा नासिक उससे भी आगे निकल गया है. जहां-जहां मेरी नजर पहुंच रही है लोग ही लोग नजर आ रहे हैं. देवेंद्र फडनवीस को आशीर्वाद देने के लिए यहां जनसागर उमड़ आया है.''

नासिक में पीएम मोदी के भाषण की 10 खास बातें-

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा, ''आज मैं एक विशेष धन्यता अनुभव कर रहा हूं और मैं इसे अपने जीवन का बहुमूल्य पल मानता हूं. आज छत्रपति शिवाजी महाराज के वंशज छत्रपति उदयन ने मेरे सिर पर एक छत्र रखा है. ये सम्मान भी है और छत्रपति शिवाजी महाराज के प्रति दायित्व का भी प्रतीक है.''

उन्होंने कहा, ''जब लोकसभा चुनाव चरम पर था, तब मैं डिंडोरी में एक सभा करने आया था. उस सभा में ऐसा जनसैलाब उमड़ा था कि उसने पूरे देश में चल रही भाजपा की लहर को और प्रचंड बना दिया था. आज नासिक की ये रैली और भी आगे निकल गई है। इतना ज्यादा जनसैलाब आज उमड़ा है.''

पीएम मोदी ने कहा, ''पहले की सरकारों में राजनीतिक अस्थिरता के कारण महाराष्ट्र जिस तेजी से आगे बढ़ना चाहिए था, उस तेजी से आगे नहीं बढ़ा. मुंबई महानगरी की चकाचौंध में महाराष्ट्र के दूर दराज के क्षेत्र, वहां के गरीब, किसान राजनीतिक अस्थिरता के शिकार हो गए.''

पीएम मोदी ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडनवीस का जिक्र करते हुए कहा, ''देवेंद्र जी ने 5 वर्ष अखंड और अविरत साधना करके महाराष्ट्र की सेवा की और राज्य को नई दिशा दी. अब महाराष्ट्र की जिम्मेवारी है की फिर एक बार देवेंद्र जी के नेतृत्व में स्थिर राजनीति का फायदा उठाना चाहिए.''

उन्होंने कहा, ''देवेंद्र जी को 5 साल पहले आपने जो जिम्मेदारी दी थी उसका रिपोर्ट कार्ड उन्होंने आपके सामने रखा है. बीते 5 साल में महाराष्ट्र को स्थिरता मिली, विकास मिला, कानून-व्यवस्था का विश्वास मिला, सामाजिक सद्भाव मिला, सहकार और सरोकार का भाव भी मिला.''

पीएम ने कहा, ''जब लोकसभा का चुनाव हुआ, तो 60 साल के बाद पहली बार एक सरकार दोबारा चुनकर आई और पहले से ज्यादा बहुमत के साथ चुनकर आई. जब आप ताकत देते हैं तो सरकार कैसे काम करती है, हमारी सरकार के प्रथम 100 दिन का कार्यकाल इसका उदाहरण है. केंद्र में नई सरकार को बनें 100 दिन पूरे हो चुके हैं और इस सरकार का पहला शतक आपके सामने है. इस शतक में धार भी है, रफ़्तार भी है और आने वाले 5 वर्षों की साफ़ सुथरी तस्वीर भी है. पहले शतक में देश, समाज और दुनिया में नए भारत के नए दृष्टिकोण की झलक है. कठिन चुनौतियों से टक्कर की ललक भी है, विकास का जोश भी है और भारत की वैश्विक ताकत का सन्देश भी है.''

उन्होंने कहा, ''हमने वादा किया था कि देश की सेना को सशक्त बनाने और अपने सैनिकों के सशक्तिकरण के लिए हर कदम उठाएंगे. हाल में दो महाशक्तिशाली हैलिकॉप्टर हमारी सैन्य शक्ति का हिस्सा बन चुके हैं, बहुत जल्द राफेल फाइटर जेट भी हमारी वायुसेना को सशक्त करेगा.''

रैली में पीएम बोले, ''दुनिया के 100 से ज्यादा देशों को आज भारत में बनी बुलेट प्रूफ जैकेट निर्यात की जा रही है. भाजपा सरकार का मतलब ही है देश की सुरक्षा को सर्वोच्च प्राथमिकता. हमारे लिए देश से बड़ा कुछ नहीं है.''

कश्मीर को लेकर पीएम मोदी ने कहा, ''हमने पूरे देश से वादा किया था कि जम्मू कश्मीर और लद्दाख की समस्याओं के समाधान के लिए नए प्रयास करेंगे. आज मैं संतोष के साथ कह सकता हूं कि देश उस सपनों को साकार करने की दिशा में चल पड़ा है. जम्मू कश्मीर में भारत के संविधान को समग्रता से लागू करना सिर्फ एक सरकार का फैसला नहीं है, ये 130 करोड़ भारतीयों की भावना का प्रकटीकरण है.''

पीएम ने कहा, ''कल तक हम कहते थे- कश्मीर हमारा है, अब हर हिंदुस्तानी कहेगा, हमें नया कश्मीर बनाना है, हर कश्मीरी को गले लगाना है और हमें वहां फिर से स्वर्ग बनाना है. देश को एहसास है कि इस फैसले की आड़ में अस्थिरता और अविश्वास फैलाने की तमाम को कोशिशें सीमा पार से हो रही हैं. जम्मू-कश्मीर में हिंसा भड़काने की भरपूर कोशिश हो रही है, लेकिन जम्मू कश्मीर की आवाम इस हिंसा से बाहर निकलने का मन बना चुकी है.''