बॉलीवुड / सलमान-शाहरुख की करण अर्जुन के 25 साल पुरे, निर्देशक ऱाकेश रोशन ने दिया यह बयान

Live Hindustan : Jan 13, 2020, 01:30 PM

राकेश रोशन द्वारा निर्देशित करन-अर्जुन को 25 साल पूरे हो गए हैं। शाहरुख खान और सलमान खान की यह फिल्म जनवरी 1995 को रिलीज हुई थी और ये उस वक्त की हिट फिल्म थी। फिल्म की स्टोरी, एक्टिंग और गानें दर्शकों ने काफी पसंद किए थे। फिल्म के 25 साल पूरे होने पर स्टार्स ने इस फिल्म से जुड़े कुछ किस्से साझा किए...

राकेश रोशन

राकेश रोशन ने फिल्म को लेकर कहा, 'जब मैं ये फिल्म बना रहा था तब मुझे छोड़कर कोई भी इस स्टोरी पर काम नहीं करना चाहता था। सब कहते थे कि वह इस फिल्म में सिर्फ मेरे लिए काम कर रहे हैं, स्टोरी के लिए नहीं। उन्हें फिल्म का कॉन्सेप्ट ज्यादा पसंद नहीं आया था। उन्हें इस कहानी पर बिलीव ही नहीं हो रहा था। लेकिन मैं अपने फैसले पर अड़ा रहा और ये फिल्म बनाई। मुझे पता था कि एक मां का यकीन कि उनके बेटे वापस आएंगे, वो लोगों को पसंद आएगा और उनका डायलॉग- ''मेरे करन-अर्जुन आएंगे'' तो दर्शकों के दिलों पर छा गया था।'

उन्होंने आगे कहा, 'मुझे नहीं लगता कि जितनी आइकॉनिक फिल्में बनी हैं उन्हें टच करना चाहिए क्योंकि वो पुराना फील नहीं आ पाता। उस टाइम का जमाना कुछ और था, आज का जमाना कुछ और है। यह सब उस जमाने में चलता था, लेकिन वो सब अब नहीं चल पाएगा। मैं रीमेक नहीं बना सकता, कोई और बना सकता है।'

फिरोज खान

फिरोज खान ने फिल्म को लेकर बताया, 'फिल्म का एक सीन था जिसमें जैक गौड़ जीप पर बैठकर राखी को मारने के लिए निकलते हैं। अमरीश पुरी और मैं भी दूसरी सीट पर बैठे थे। जब अमरीश पुरी जी अपना डायलॉग बोलते हैं, उड़ा दो इसको, तब जैक गाड़ी की फुल स्पीड कर देता है और उस वक्त हम सब काफी डर गए थे और कांप रहे थे। हम यही सोच रहे थे क्या जैक सही समय पर ब्रेक लगा पाएगा। हमने चिल्लाकर जैक को गाड़ी रोकने को कहा तो गाड़ी बिल्कुल राखी जी के करीब रुकी। हम सबकी हालत खराब हो गई थी, लेकिन राखी जी अपनी जगह से एक इंच भी नहीं हिलीं।'

उन्होंने आगे कहा, 'अगर आज के समय में 'करन-अर्जुन' बनती है तो मुझे लगता है कि रणबीर कपूर या शाहिद कपूर 'करन' के रोल में सूट करेंगे और 'अर्जुन' के रोल के लिए रणवीर सिंह।' 

आसिफ शेख

आसिफ शेख बोले- मेरा रोल पहले गुलशन ग्रोवर को ऑफर हुआ था, लेकिन कुछ डेट्स की दिक्कतों की वजह से वो ये फिल्म नहीं कर पाए। क्लाइमेक्स सीन के शूटिंग के वक्त मेरा राइट हैंड टूट गया था और मुझे काफी दिक्कत हो रही थी। शाहरुख खान और मेरा एक फाइट सीन था और वह मुझसे पूछते, तू कर लेगा ना? मैंने बहुत सारी पेन किलर खाकर शूटिंग की। हर टेक के बाद राकेश सर मेरे पास आते और मुझसे पूछते, तू ठीक है ना? वह परिवार की तरह ध्यान रखते थे।

मेरा जो फिल्म का डायलॉग था, 'वट अ जोक' वो बहुत ही फेमस हुआ था और जो भी मुझे मिलता वह मुझे हैल्लो बोलने की बजाय वट अ जोक कहता। मैं करन-अर्जुन के रीमेक के लिए रणवीर सिंह को 'करन' और रणबीर कपूर को 'अर्जुन' के रूप में देखना चाहूंगा।

रंजीत

रंजीत ने फिल्म की शूटिंग के दिनों को याद करते हुए कहा, 'उस वक्त वैनिटी वैन्स नहीं होती थी तो हम सब लोग साथ बैठकर शूट करते थे और बाकी लोगों को भी परफॉर्म करते देखते थे। हम सब साथ में खाते थे, घंटों तक बात करते थे, हंसी-मजाक तो चलता रहता है। हम लोग कार्ड्स भी खेलते रहते थे। यहां तक की राकेश रोशन और उनकी पत्नी भी हमारे साथ कार्ड्स खेलते थे। मैं हमेशा गेम जीतता था तो राकेश जी फाइट कोरियोग्राफर को कहते थे, मास्टर जी इसको थोड़ा और मारो, आज इसने बहुत पैसे जीते हैं। तो मैं कहता था, लो भाई पैसे वापस ले लो। तो हम ऐसे ही एक दूसरे के साथ मजाक करते रहते थे। मुझे लगता है कि अगर आज के समय में इस फिल्म को रीक्रिएट किया जाए तो किसी 2 न्यू कमर्स को लेना चाहिए क्योंकि मुझे लगता है कि इससे फ्रेशनेस रहेगी।'