दिल्ली गैंगरेप / निर्भया की मां का छलका दर्द, बोलीं- सजा के लिए जहां 7 साल रुके, वहां 7 दिन और सही

News18 : Dec 13, 2019, 12:26 PM

नई दिल्ली | निर्भया गैंगरेप केस (Nirbhaya Gang Rape) के चारों दोषियों को फांसी देने का इंतजार लगातार बढ़ता जा रहा है। पहले माना जा रहा था कि इन चारों को तीन-चार दिन के अंदर फांसी दे दी जाएगी। लेकिन, कोर्ट में दोषियों के फिर से अपील करने के चलते सजा में देरी हो रही है। आज इन चारों दोषियों को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए पटियाला हाउस कोर्ट (Patiala House Court) में पेश किया गया। कोर्ट में निर्भया के माता- पिता भी मौजूद थे। सुनवाई के बाद आशा देवी ने कहा कि वह न्याय के लिए लगातार लड़ती रहेंगी।

मां का छलका दर्द

बता दें कि पीड़िता की मां ने शीर्ष अदालत का रुख कर मौत की सजा पाए चार दोषियों में से एक की पुनर्विचार याचिका का विरोध किया है, जिस पर 17 दिसंबर को सुनवाई की जानी है। इस केस में निर्भया की मां ने दोषियों को जल्द से जल्द सजा देने की मांग की है। उन्होंने कहा, 'दोषियों को सज़ा दिलाने के लिए मैंने 7 साल का लंबा इंतजार किया है। ऐसे में मैं सात दिन और रुक सकती हूं। मैं न्याय के लिए लगातार लड़ती रहूंंगी।'

आज क्या हुआ कोर्ट में

आज चारों दोषियों को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए पटियाला हाउस कोर्ट में पेश किया गया। मामले की सुनवाई करते हुए कोर्ट ने कहा कि इस केस से जुड़ा एक मामला सुप्रीम कोर्ट में पेंडिंग है। इसलिए जब तक वहां मामले का निपटारा नहीं किया जाता तब तक लोअर कोर्ट सुनवाई नहीं करेगा। पटियाला हाउस कोर्ट ने सुनवाई 18 दिसंबर तक टाल दी है। इतना ही नहीं कोर्ट ने दोषियों के वकील एपी सिंह को भी फटकार लगाई। कोर्ट ने कहा कि आप केस के दौरान कोर्ट में मौजूद नहीं होते हैं। आप इस मामले में कोई भी फैसला आने में देरी कर रहे हैं।

एक साथ डेथ वारंट!

पिछली सुनवाई के दौरान निर्भया की मां ने कोर्ट से कहा था कि एक-एक कर डाली जा रही याचिकाओं से समय खराब हो रहा है। इस पर कोर्ट ने कहा था कि इस मामले में सभी दोषियों का डेथ वारंट एक साथ जारी किया जाएगा। कोर्ट की ये बात सुनकर निर्भया की मां रोने लगी थीं। इसके बाद कोर्ट ने सभी आरोपियों को एक साथ कोर्ट में पेश करने का आदेश जारी किया था।