विश्व / तकनीकी रूप से गिलगिट-बाल्टिस्तान भारत का हिस्सा: यूरोपीय आयोग के पूर्व डायरेक्टर

AMAR UJALA : Sep 12, 2019, 03:16 PM

भारत द्वारा कश्मीर से अनुच्छेद 370 को निष्क्रिय करने की देश के साथ-साथ अंतरराष्ट्रीय पटल पर भी सराहना हो रही है। यूरोपीय आयोग के पूर्व निदेशक ब्रायन टोल ने जिनेवा में अनुच्छेद 370 पर भारत का समर्थन करते हुए कहा कि, इसे हटाए जाने से कश्मीर में लोगों को सामान्य रूप से आर्थिक अवसर मिलेगा।

सरकार के अनुसार, उन्हें भी आशा है कि यह कश्मीरियों के लिए अच्छा कदम साबित होगा। जहां तक बात इससे पाकिस्तान के गिलगित- बाल्टिस्तान को प्रभावित करने का है, तो यह तकनीकी रूप से भारत का हिस्सा है।

ब्रायन टोल ने कहा कि, यह एक ऐसा क्षेत्र है जहां पर आर्थिक विकास के लिए अवसरों की आवश्यकता है। यहां के लोगों को प्रासंगिक राजनीतिक निकायों में प्रतिनिधित्व करने की आवश्यकता है, इस क्षेत्र में आर्थिक मजबूती के लिए आवाज उठानी चाहिए, इसके लिए यहा जरूरी है कि चीन-पाक आर्थिक गलियारे को गिलगित-बाल्टिस्तान के लोगों के हित में होना चाहिए।