झुंझुनू / खुद को आग लगाकर युवक ने वन अफसर को पकड़ा, जमीन से कब्जा हटाने गई थी टीम

Cricket world cup : Jul 08, 2019, 12:16 AM

गुस्साए लोगों वन विभाग की टीम पर किया पथराव, गाड़ियों के कांच तोड़े

खुद को जलाने वाले व्यक्ति की हालत गंभीर, अस्पताल में भर्ती

झुंझुनूं। यहां गुढ़ागौड़जी कस्बे के गुढ़ा गांव में वन विभाग की जमीन से अतिक्रमण हटाए जाने से नाराज ग्रामीण ने खुद पर पेट्रोल छिड़क कर आत्मदाह की कोशिश की। आग की लपटों से घिरा ग्रामीण पुलिस और वन विभाग की टीम के पीछे दौड़ पड़ा। किसी तरह अधिकारी ने अपनी जान बचाकर खुद को छुड़ाया। इसी बीच आसपास के लोगों ने अतिक्रमण हटाने आए वन विभाग की टीम और उनके वाहनों पर पत्थर फेंकना शुरू कर दिया। अफसर खुद को बचाने के लिए इधर-उधर भागते देखे गए। बाद में टीम को खाली हाथ लौटना पड़ा। वहीं, आग से गंभीर रूप से झुलसे ग्रामीण को परिजनों ने चंवरा स्थित सामुदायिक चिकित्सा केंद्र पहुंचाया। यहां से उसे जिला अस्पताल रैफर कर दिया गया।

वन विभाग की जमीन पर कब्जे की शिकायत की गई थी

गुढ़ा गांव में वन विभाग की जमीन पर पिछले कई सालों से कुछ परिवार अवैध तरीके से काबिज हैं। वे यहां सालों से कच्चा-पक्का निर्माण कर निवास बनाए हैं। इसकी शिकायत पर रविवार को वन विभाग की टीम पुलिस बल लेकर जमीन से अतिक्रमण हटाने पहुंची थी।

वन अफसरों से पहले विवाद हुआ, फिर आग लगाई

यहां पहले बाबूलाल सैनी का वन अफसरों से विवाद हुआ। इसके बाद उसने पेट्रोल डालकर आग लगा ली। यह देख वन अफसरों के हाथ-पांव फूल गए। बाबूलाल वन विभाग की टीम को पकड़ने के लिए दौड़ने लगा। इससे वहां अफरा-तफरी मच गई। परिजनों ने किसी तरह बाबूलाल को पकड़कर आग पर काबू पाया, तब तक वह काफी जल गया था। उसकी हालत गंभीर बताई गई है।