Cricket / हार का बहाना नहीं बना सकते, फेक फील्डिंग पर बोले बांग्लादेश के सलाहकार

Zoom News : Nov 05, 2022, 03:37 PM
Cricket | विराट कोहली पर ‘फर्जी फील्डिंग’ का आरोप लगाने वाली बांग्लादेश टीम को उसी के सलाहकार ने तलाड़ लगाई है। बांग्लादेश के तकनीकी सलाहकार श्रीधरन श्रीराम ने कहा कि हार के लिए टीम कोई बहाना नहीं बना सकती है। बता दें कि बांग्लादेश टीम ने विराट कोहली पर ‘फर्जी फील्डिंग’ का आरोप लगाया था। कोहली द्वारा इस कथित ‘फर्जी फील्डिंग’ को मैदानी अंपायरों ने भी नहीं देखा था। अब पूरे मामले पर बांग्लादेश T20I के तकनीकी सलाहकार श्रीधरन श्रीराम ने शनिवार को कहा कि वे मौजूदा T20 विश्व कप में भारत के खिलाफ अपनी हार के लिए "फेक फील्डिंग" को बहाना नहीं बना सकते। बांग्लादेश भारत से पांच रन से हार गया था। हार के बाद, उप-कप्तान नूरुल हसन ने आरोप लगाया था कि मैदानी अंपायर विराट कोहली की "फेक फील्डिंग" को नोटिस करने में फेल रहे, जिससे उन्हें पांच रन मिल सकते थे।

बाद में, बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड (बीसीबी) ने आग में घी डालने का काम किया। बोर्ड ने कहा कि वे इस मुद्दे को "उचित मंच" पर उठाएंगे। लेकिन श्रीराम ने जोर देकर कहा कि वे इस मुद्दे को हार का बहाना नहीं बनाना चाहते हैं। इसके बजाय उन्होंने कहा कि भारत के खिलाफ एक करीबी हार बांग्लादेश टीम को काफी आत्मविश्वास देगी। बारिश के कारण जीत के लिए 16 ओवर में 151 रन के संशोधित लक्ष्य का पीछा करते हुए बांग्लादेश टीम पांच रन से हार गई थी। आईसीसी की खेलने की शर्तों के नियम 41.5 के अनुसार फील्डिंग करने वाली टीम बल्लेबाज को जान बूझकर बाधा नहीं पहुंचा सकती या उसका ध्यान नहीं भटका सकता। अगर अंपायर को ऐसा लगता है कि किसी खिलाड़ी ने नियम तोड़ा है तो वह डैड बॉल घोषित करके पेनल्टी के पांच रन दे सकते हैं।

क्रिकबज की रिपोर्ट के मुताबिक, श्रीराम ने कहा, "नहीं, हम यहां कोई बहाना नहीं बनाना चाहते हैं। जैसे ही यह (फेक फील्डिंग) हुई, मैंने चौथे अंपायर से बात की, लेकिन मुझे लगता है कि यह ऑन-फील्ड अंपायर की कॉल थी, और यही हमें भी बताया गया था। लेकिन हम यहां (हार के लिए) कोई बहाना नहीं बनाना चाहते हैं।" उन्होंने कहा, "मुझे लगता है कि मामला बहुत करीबी था। अगर आप खेल की शुरुआत में किसी ने पूछते कि हम भारत से पांच रनों से हार जाएंगे, तो मुझे नहीं लगता कि कोई इस पर सहमत होता। इसलिए मुझे लगता है कि हमें एक मौका मिला था जहां हम भारत को हरा सकते थे लेकिन हम वो लाइन क्रॉस नहीं कर पाए। लेकिन इतना करीब आने के बाद मुझे लगता है कि लड़कों में काफी आत्मविश्वास आया है।"

उन्होंने कहा, "मुझे लगता है कि ड्रेसिंग रूम में हर कोई निराश था कि वे लाइन क्रॉस नहीं कर सके, और उन्हें एहसास हुआ कि उन्होंने कितना सुनहरा मौका गंवा दिया।" उन्होंने कहा, "यह उनके लिए बहुत अच्छी सीख है। मुझे लगता है कि इससे टीम को बहुत आत्मविश्वास मिलता है कि अगर आप भारत जैसी टीम को चुनौती दे सकते हैं और इतने करीब आ सकते हैं।" श्रीराम ने कहा कि मौजूदा विश्व कप में उनका प्रदर्शन इस बात की ओर इशारा करता है कि यह उनके लिए सबसे छोटे प्रारूप में एक नई शुरुआत है।  

सबसे छोटे प्रारूप में रसेल डोमिंगो के नेतृत्व में टीम के निराशाजनक प्रदर्शन के बाद बांग्लादेश ने श्रीराम को नियुक्त किया। आंकड़ों पर गौर किया जाए तो मौजूदा विश्व कप में उनका प्रदर्शन बेहतर रहा है। उन्होंने जिम्बाब्वे और नीदरलैंड को हराया है। टूर्नामेंट में आने से पहले, 2007 में वेस्ट इंडीज के खिलाफ ग्रुप स्टेज में उनकी सिर्फ एक जीत थी। अब पाकिस्तान के खिलाफ एक जीत उन्हें सेमीफाइनल में पहुंचने का मौका दे सकती है। हालांकि इसके लिए अन्य कई फैक्टर्स पर निर्भर रहना होगा।

Booking.com

SUBSCRIBE TO OUR NEWSLETTER