T20 World Cup 2024 / हार्दिक पांड्या साबित होंगे क्या गेमचेंजर? जानें आंकड़े और उनके रिकॉर्ड

Vikrant Shekhawat : Jun 02, 2024, 06:00 AM
T20 World Cup 2024: भारतीय टीम वेस्टइंडीज और अमेरिका की संयुक्त मेजबानी में खेले जाने वाले आईसीसी टी20 वर्ल्ड कप 2024 में अपना पहला मुकाबला 5 जून को न्यूयॉर्क के मैदान पर खेलने उतरेगी। वहीं इससे पहले टीम को वहां के हालात समझने के लिए एक प्रैक्टिस मैच भी खेलने का मौका मिलेगा। इस मैच में भारतीय टीम की कोशिश अधिक से अधिक प्लेयर्स को मौका देने पर होगी ताकि टूर्नामेंट के पहले मैच में वह एक बेहतर कॉम्बिनेशन के साथ मैदान पर उतर सके।

इस वर्ल्ड कप में सभी फैंस की नजरें हार्दिक पांड्या पर भी रहने वाली हैं, जिनको मेगा टूर्नामेंट के लिए भारतीय टीम के उपकप्तान की जिम्मेदारी भी सौंपी गई है। हार्दिक पिछले साल खेले गए वनडे वर्ल्ड कप 2023 में बांग्लादेश के खिलाफ मुकाबले के दौरान चोटिल हो गए थे, जिसके बाद से उन्होंने एक भी इंटरनेशनल मैच नहीं खेला है। वहीं उन्होंने आईपीएल के 17वें सीजन में वापसी की लेकिन गेंद और बल्ले से कोई खास प्रदर्शन करने में कामयाब नहीं हो सके थे। ऐसे में क्या वह आगामी टी20 वर्ल्ड कप में टीम इंडिया के लिए गेमचेंजर की भूमिका निभा पाएंगे इसपर सभी की नजरें टिकी हुईं हैं।

अब तक ऐसा रहा टी20 वर्ल्ड कप में हार्दिक का प्रदर्शन

हार्दिक पांड्या ने साल 2016 में खेले गए टी20 वर्ल्ड कप में पहली बार खेला था, जिसके बाद वह साल 2021 और 2022 में खेले गए वर्ल्ड कप में भी टीम का हिस्सा रहे थे। वहीं उन्होंने तीनों टी20 वर्ल्ड कप में मिलाकर अब तक कुल 16 मैच खेले हैं, जिसमें उन्होंने 23.67 के औसत से 213 रन बनाए हैं, इस दौरान एक ही अर्धशतकीय पारी देखने को मिली है। वहीं उनके गेंदबाजी प्रदर्शन को लेकर बात की जाए तो हार्दिक ने 25.31 के औसत से कुल 13 विकेट ही हासिल किए हैं। पांड्या ने जिन 16 मैचों में टी20 वर्ल्ड कप में टीम इंडिया की प्लेइंग 11 का हिस्सा रहे हैं, उसमें से 10 में टीम को जीत हासिल हुई है।

पांड्या का मौजूदा फॉर्म नहीं बेहतर

आईपीएल के 17वें सीजन में हार्दिक पांड्या जो मुंबई इंडियंस टीम की कप्तानी भी कर रहे थे वह अपने खेल और कप्तानी दोनों ही मामलों में बुरी तरह से फेल होते दिखे। मुंबई की टीम ने जहां सीजन का अंत प्वाइंट्स टेबल में आखिरी स्थान पर रहते हुए किया तो वहीं हार्दिक ने 14 मैच खेले जिसमें वह 18 के औसत से सिर्फ 216 रन ही बनाने में कामयाब हो सके वहीं गेंदबाजी में सिर्फ 11 विकेट ही अपने नाम कर सके।

SUBSCRIBE TO OUR NEWSLETTER