देश / कोशिशें जारी हैं: वर्ल्ड यूनिवर्सिटी रैंकिंग में भारतीय संस्थानों के प्रदर्शन पर पीएम मोदी

Zoom News : Jun 10, 2021, 01:46 PM
नई दिल्ली: आईआईटी दिल्ली समेत देश की तीन यूनिवर्सिटी क्यूएस वर्ल्ड यूनिवर्सिटी रैंकिंग-2022 के टॉप-200 में जगह बनाई हैं. आईआईटी बॉम्बे को 177वीं रैंक, आईआईटी  दिल्ली को 185वीं रैंक और आईआएससी बंगलुरु को 186वीं रैंक मिली है. शिक्षा मंत्रालय ने कहा कि तीन भारतीय यूनवर्सिटी ने क्यूएस वर्ल्ड यूनिवर्सिटी रैंकिंग्स 2022 में जगह बनाई है. जबकि आईआईएससी बेंगलुरू रिसर्च में नंबर-1 पर रही.

पीएम मोदी ने दी बधाई

इधर, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने इस उपलब्धि पर तीनों यूनिवर्सिटी को बधाई है. उन्होंने कहा- IISc बेंगलुरु, IIT बॉम्बे और IIT दिल्ली को बधाई देता हूं. भारत के और अधिक यूनिवर्सिटी और इंस्टीट्यूट्स को वैश्विक उत्कृष्टता सुनिश्चित करने और युवाओं के बीच बौद्धिक कौशल का समर्थन करने के प्रयास चल रहे हैं."

रैंकिंग के 18वें एडिशन के अनुसार क्यूएस वर्ल्ड यूनिवर्सिटी रैंकिंग-2022 में एमाईटी को पहला स्थान, ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी को दूसरी पोजिशन तो वहीं स्टेनफोर्ड विश्वविद्यालय को थर्ड पोजिशन हासिल हुई है. वहीं क्यूएस के रिसर्च डायरेक्टर बेन सोटर का कहना है कि इंडियन हायर एजुकेशन इंस्टीट्यूट्स रिसर्च फिल्ड में काफी अच्छा काम कर रहे हैं. ये बात ओर है कि कई संस्थानों में अभी भी शिक्षकों की कमी  है बावजूद इसके भारतीय शिक्षण संस्थान ग्लोबल लेवल पर अपनी पहचान बना रहे हैं.

35 भारतीय संस्थानों ने बनाई जगह

गौरतलब है कि इस साल क्यूएस वर्ल्ड यूनिवर्सिटी रैंकिंग-2022 में 35 भारतीय संस्थानों ने जगह बनाई है. हालांकि पिछले साल के मुकाबले IIT बॉम्बे और IISc बंगलूरू की रैंकिंग में गिरावट आई है. लेकिन आईआईटी दिल्ली के प्रदर्शन में सुधार हुआ है. गौरतलब है कि 500 संस्थानों की लिस्ट में सात इंस्टीट्यूट की रैंकिग में सुधार हुआ है तो वहीं सात इंस्टीट्यूट्स की रैंकिंग में गिरावट भी आई है. 14 संस्थान ऐसे हैं जिनकी रैंकिंग में जरा भी बदलाव नहीं हुआ है. वहीं 7 नए संस्थान पहली बार लिस्ट में शामिल हुए हैं.

Booking.com

SUBSCRIBE TO OUR NEWSLETTER