विदेश / लेबनान से इज़रायल पर दागे गए 10 रॉकेट, हिज़्बुल्ला ने ली ज़िम्मेदारी

Zoom News : Aug 06, 2021, 06:02 PM
लेबनान: लेबनान (Lebanon) के चरमपंथी संगठन हिज्बुल्ला (Hezbollah) ने कहा है कि उसने शुक्रवार को देश से लगने वाली सीमा के नजदीक इराजयाली ठिकानों पर रॉकेट दागे (Rocket Attack) हैं. हिज्बुल्लाह ने कहा है कि ये एक दिन पहले दक्षिणी लेबनान पर हुए इजराइली हवाई हमलों (Israel Air Strike) का जवाब है. इजरायल की सेना ने भी रॉकेट हमलों की पुष्टि कर दी है. इजरायली सेना (Israeli Military) ने कहा कि शुक्रवार को दक्षिणी लेबनान से इजरायल की ओर कम से कम 10 रॉकेट दागे गए. ईरान (Iran) के साथ चल रहे तनाव के बीच सीमा पार शत्रुता बढ़ती हुई दिखाई दे रही है.

हिज्बुल्ला ने कहा है कि उसने आज दिन में दक्षिणी लेबनान में हुए हवाई हमलों के जवाब में लेबनानी सीमा के निकट इजराइली ठिकानों के निकट रॉकेट दागे हैं. हिज्बुल्ला ने एक बयान में कहा कि उसने शेबा फार्म्स इलाके (Shebaa farms) में इजराइली ठिकानों के निकट ‘खुले मैदान’ में ‘दर्जनों’ रॉकेट बरसाए. हालांकि इसके अतिरिक्त उसने कोई जानकारी नहीं दी. वहीं, इजरायली सेना ने कहा कि अधिकतर रॉकेटों को इजरायल के आयरन डॉम सिस्टम के जरिए गिरा दिया गया. बाकी के बचे हुए रॉकेट एक खुले मैदान में जा गिरे. अभी तक किसी भी तरह के जान-माल के नुकसान की खबर नहीं है.

हवाई हमलों की वजह से बजने लगे सायरन

इजरायल के आर्मी रेडियो ने बताया कि सेना ने जवाबी कार्रवाई करते हुए भारी हथियारों से लैस ईरान समर्थित हिज्बुल्ला समूह के नियंत्रण में दक्षिण लेबनान के कुछ हिस्सों की ओर गोले और तोप से बम दागे. बताया गया है कि लेबनान के रॉकेट हमलों की वजह से उत्तरी इजरायल में ऊपरी गलील और गोलान हाइट्स (Golan Heights) में हवाई हमलों के सायरन बजने लगे थे. इन दोनों ही हिस्सों को 1967 के मध्यपूर्व युद्ध (Middle East war) में इजरायल ने कब्जे में ले लिया था. लेबनान के एक सुरक्षा सूत्र ने कहा कि रॉकेट लेबनान के शहर शेबा के पास अल-अरकूब इलाके से दागे गए.

दो दिन पहले भी दागे गए रॉकेट

ये लगातार तीसरा दिन है, जब सीमा पार हमलों की वजह से शत्रुता बढ़ती हुई नजर आ रही है. 2006 के बाद से ही दोनों पक्षों के बीच शांति कायम है. 2006 में इजरायल और हिज्बुल्ला ने एक महीने तक जंग लड़ी थी. दो दिन पहले लेबनान से दागे गए रॉकेट की वजह से इजरायल ने भी जवाबी कार्रवाई में एयरस्ट्राइक की थी. इस वजह से ईरान समर्थित हिज्बुल्ला से इजरायल का विवाद गहरा गया था. गौरतलब है कि ईरान पर आरोप लगते रहे हैं कि वह हिज्बुल्ला को हथियारों और पैसों की सप्लाई करता है, ताकि संगठन इजरायल में हमला कर सके. हालांकि, ईरान अपने ऊपर लगे आरोपों को नकारता रहा है.

Booking.com

SUBSCRIBE TO OUR NEWSLETTER