लॉकडाउन / पति-पत्नी के झगड़े के बीच सरकार का महिलाओ को सज-संवरकर रहने का आदेश, जाने पुरे निर्देश

Live Hindustan : Apr 03, 2020, 11:39 AM
मलेशिया | दुनियाभर में लॉकडाउन के कारण पति-पत्नी के बीच झगड़े बढ़ गए हैं और इससे सभी परेशान हैं। मलेशिया ने लॉकडाउन के कारण बढ़े इन घरेलू झगड़ों को कम करने के लिए महिलाओं को कुछ अजीबोगरीब निर्देश दिए हैं। इन निर्देशों के बाद मलेशियाई सरकार पर लिंगभेदी होने का आरोप लगने लगा है और इसी आलोचना के बीच सरकार ने कई निर्देश अपनी वेबसाइट से हटा दिए हैं।

सज-संवरकर तैयार रहने को कहा-

मलेशियाई सरकार ने महिलाओं को घर में भी सज-संवरकर रहने का आदेश दिया है। इसके अलावा महिलाओं से कहा गया है कि वे अपने पतियों को ज्यादा नखरे दिखाकर परेशान न करें। इन निर्देशों के बाद लिंगभेद करने को लेकर मलेशिया की कड़ी आलोचना हो रही है।

फेसबुक पोस्ट में दिए निर्देश-

मलेशिया के महिला मंत्रालय ने फेसबुक पर कई पोस्ट के माध्यम से लॉकडाउन के दौरान पत्नियों को कैसा व्यवहार करना चाहिए इसके दिशा-निर्देश दिए हैं। एक तस्वीर में एक दंपति एक साथ कपड़े सुखाता हुआ दिख रहा है। इसमें लिखा है कि कृपया महिलाएं नखरे दिखाकर अपने पतियों को परेशान न करें। दूसरे पोस्ट में महिलाओं को निर्देश दिया गया है कि उन्हें कार्टून कैरेक्टर डोरेमॉन की आवाज निकालनी चाहिए। ये एक कार्टून किरदार है जो पूरे एशिया में काफी प्रसिद्ध है। एक अन्य पोस्ट में महिलाओं को निर्देश दिया गया है कि महिलाओं को घर में मेकअप कर और अच्छे कपड़े पहनकर सज-संवरकर रहना चाहिए। उन्हें घर के सामान्य कपड़े नहीं पहनने चाहिए।

साफ-सफाई करने का निर्देश-

मलेशियाई सरकार ने महिलाओं को निर्देश देते हुए कहा है कि उन्हें रसोईघर और सभी कमरों की रोज साफ-सफाई करनी चाहिए। इससे क्वारेंटाइन के दौरान दिमाग को साफ रखने में मदद मिलती है।

आलोचना हुई-

इन निर्देशों की कड़ी आलोचना के बाद सरकार ने इनमें से कुछ पोस्ट हटा दिए। उनपर लिंगभेदी होने का आरोप लग रहा था। एक उपयोगकर्ता ने लिखा, कैसे घर में सजने-संवरने और मेकअप करने से कोविड-19 से बचा जा सकता है। कोई बताएगा। दूसरे ने लिखा, हम 2020 में हैं।

हिंसा में हो सकती है वृद्धि-

मलेशिया में लॉकडाउन के कारण घरेलू हिंसा में बढ़ोतरी की आशंका बनी हुई है। महिलाएं अपने घर से बाहर नहीं निकल पा रही हैं और ऐसे में घरेलू हिंसाओं के मामले बढ़ सकते हैं। घरेलू हिंसा के पीड़ितों के लिए मलेशिया में चलाई जा रही हेल्पलाइन पर शिकायतों में 50 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है। मलेशिया में फिलहाल 2,766 कोविड-19 के मामले सामने आए हैं और 43 लोगों की मौत हो चुकी है।

Booking.com

SUBSCRIBE TO OUR NEWSLETTER