मनोरंजन / आर्यन ने कोड्स के ज़रिए ड्रग्स खरीदे, चैट से अंतर्राष्ट्रीय ड्रग तस्करी का खुलासा: एनसीबी

Zoom News : Oct 05, 2021, 02:06 PM
मुंबई: अभिनेता शाह रुख खान के पुत्र आर्यन खान की मुश्किलें बढ़ गई हैं। कोर्ट ने यह कहते हुए उनकी एनसीबी हिरासत सात अक्टूबर तक बढ़ा दी है कि जांच की अपनी अहमियत होती है। आरोपित का एनसीबी के साथ रहना जरूरी है। नार्कोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (एनसीबी) की ओर से पेश किए गए रिमांड पेपर में कहा गया था कि आर्यन खान के फोन में तस्वीरों के रूप में कई आपत्तिजनक चीजें मिली हैं। ये पिक्चर्स चैट इंटरनेशनल ड्रग्स ट्रैफिकिंग की ओर इशारा करते हैं। इसलिए उनकी एनसीबी हिरासत 11 अक्टूबर तक बढ़ाई जानी चाहिए।

चीफ मेट्रोपोलिटन मजिस्ट्रेट आरएम नर्लीकर ने आर्यन खान, अरबाज मर्चेट और मुनमुन धमेचा को सात अक्टूबर तक के लिए एनसीबी की हिरासत में भेज दिया। इस मामले में गिरफ्तार छह अन्य आरोपितों को भी अदालत ने सात अक्टूबर तक के लिए एनसीबी की हिरासत में भेज दिया।

एनसीबी की ओर से पेश अतिरिक्त सालिसिटर जनरल अनिल सिंह ने कोर्ट को बताया कि क्रूज में चल रही पार्टी से एनसीबी को 13 ग्राम कोकीन, पांच ग्राम मेफरड्रोन (एमडी), 21 ग्राम चरस, एमडीएमए की 22 गोलियां एवं 1,33,000 रुपये बरामद हुए हैं। इसके जवाब में आर्यन के वकील सतीश मानशिंदे ने कहा कि आर्यन क्रूज पर एक मेहमान के रूप में गए थे। उन्हें क्रूज पर विशेष अतिथि के तौर पर बुलाया गया था। एनसीबी की जांच में आर्यन के पास से न तो ड्रग्स मिली है, न ही पैसे। ये सारी चीजें क्रूज पर से बरामद हुई हैं। मानशिंदे के तर्को के बाद जब कोर्ट ने एनसीबी से पूछा कि वह आर्यन की हिरासत क्यों चाहती है, तो एनसीबी का कहना था कि वह यह पता लगाना चाहती है कि उन्हें पार्टी में क्यों बुलाया गया था और वहां किस केबिन में रुके थे। आर्यन के वकील सतीश मानशिंदे का कहना था कि आर्यन को ड्रग्स बेचने की जरूरत नहीं है। वह क्रूज में क्यों गए थे, यह पता करना एनसीबी का काम नहीं है। वह चाहें तो पूरा शिप खरीद सकते हैं।

एएसजी अनिल सिंह ने पिछले वर्ष सामने आए रिया चक्रवर्ती के मामले का हवाला देते हुए कहा कि एनडीपीएस के तहत लगे आरोप गैर जमानती हैं। कोर्ट का कहना था कि एनडीपीएस एक्ट के तहत लगाए गए सभी आरोप गैरजमानती हैं। इसलिए जमानती और गैरजमानती का सवाल ही नहीं उठता। सिर्फ इस पर विचार करना जरूरी है कि आरोपित को एनसीबी की हिरासत में भेजा जाए या नहीं। चूंकि अभियोजन पक्ष की ओर से दिए गए तर्को से लगता है कि आरोपित की जांच की जानी जरूरी है, इसलिए आर्यन खान को सात अक्टूबर तक एनसीबी की हिरासत बढ़ाई जाती है।

आर्यन की रिमांड बढ़ाने की मांग करते हुए एनसीबी के वकीलों ने कहा कि क्रूज पर 1,300 से अधिक लोग थे। हमने सिर्फ नौ को ही गिरफ्तार किया है। हम इन सभी को आमने-सामने बैठाकर पूछताछ करना चाहते हैं। रविवार देर शाम आर्यन की हिरासत मिलने के बाद एनसीबी ने उनसे एवं उनके दोस्त अरबाज मर्चेंट से रातभर पूछताछ की। इस पूछताछ से एनसीबी आर्यन से कई महत्वपूर्ण तथ्य उगलवाने में कामयाब रही है। एनसीबी इन्हीं तथ्यों पर आर्यन एवं अरबाज से और जानकारियां चाहती है। इन दोनों से मिली जानकारियों के आधार पर ही एनसीबी ने मुंबई में कई स्थानों पर छापेमारी शुरू कर दी है। इन छापों के बाद मादक पदार्थो की खरीद-फरोख्त करनेवाला एक ड्रग्स पेडलर भी गिरफ्तार किया गया है।

SUBSCRIBE TO OUR NEWSLETTER