T20 World Cup / बाल-बाल बचा बांग्लादेशी बल्लेबाज तन्जीद हसन, टला बड़ा हादसा, खत्म हो जाता करियर

Vikrant Shekhawat : Jun 14, 2024, 06:00 AM
T20 World Cup: क्रिकेट उन कुछ गिने चुने खेलों में से है, जिसमें खिलाड़ी खुद को बचाने के लिए ग्लव्स, हेलमेट, पैड्स समेत कई तरह के इक्विपमेंट का इस्तेमाल करते हैं. इसकी जरूरत भी होती है क्योंकि जब 140-150 किलोमीटर प्रतिघंटा की रफ्तार से 150 ग्राम की सख्त बॉल आती है तो बल्लेबाज इन्हीं सबसे वो चोट से बच पाते हैं. ज्यादातर मौकों पर खिलाड़ी बिना किसी खास परेशानी के सुरक्षित ही रहते हैं लेकिन कई बार उन्हें इसके बावजूद भी चोट लगती है और कभी-कभी कुछ खिलाड़ी बड़े हादसे से बच जाते हैं. बांग्लादेश के बल्लेबाज तन्जीद हसन को ऐसे ही हाल का सामना करना पड़ा, जहां उनके साथ एक बड़ा हादसा होने से बच गया.

ये सब हुआ टी20 वर्ल्ड कप 2024 के एक मुकाबले में जहां, बांग्लादेश का सामना नीदरलैंड से था. सेंट विंसेंट में दोनों टीम की टक्कर में बांग्लादेश की टीम पहले बैटिंग के लिए उतरी. बांग्लादेश ने पहला विकेट जल्दी गंवा दिया था लेकिन उसके ओपनर तन्जीद हसन विस्फोटक बैटिंग करते नजर आए. इस दौरान ही उनके साथ कुछ ऐसा हुआ, जो उनका करियर खत्म कर सकता था लेकिन किस्मत का साथ उन्हें मिला.

हेल्मेट ने तन्जीद को बचा लिया

बांग्लादेश की पारी के तीसरे ओवर में नीदरलैंड के मीडियम पेसर विवियन किंग्मा बॉलिंग कर रहे थे. उनके ओवर की पांचवीं गेंद थोड़ी शॉर्ट थी, जिस पर तन्जीद पुल शॉट खेलना चाहते थे लेकिन वो इसमें नाकाम रहे. गेंद ने बैट का ऊपरी किनारा लिया और सीधे तन्जीद के हेल्मेट के वाइजर में फंस गई. इसने हर किसी को चौंका दिया. वहीं तन्जीद के चेहरे पर खौफ नजर आ रहा था क्योंकि अगर गेंद वाइजर में फंसने के बजाए सीधे अंदर जाती तो उनकी बाईं आंख में लग सकती थी और बड़ा हादसा हो सकता था.

खत्म हो सकता था करियर

तन्जीद की किस्मत अच्छी थी कि गेंद में ज्यादा रफ्तार भी नहीं थी और वो सिर्फ वाइजर में फंस गई. अगर उनकी आंख में लगती तो उनकी वो हमेशा के लिए डैमेज हो सकती थी और उनका करियर भी खत्म हो सकता था. साउथ अफ्रीका के दिग्गज विकेटकीपर मार्क बाउचर की आंखों में बेल्स लगने से उनका करियर खत्म हो गया था. इंग्लैंड के बल्लेबाज हैरी ब्रूक के हेल्मेट के वाइजर में भी गेंद फंसी थी और वो भी चोट से बचे थे. हालांकि हर कोई ऐसी किस्मत वाला नहीं होता. करीब 10 साल पहले भारतीय पेसर वरुण एरॉन की तेज गेंद इंग्लैंड के स्टुअर्ट ब्रॉड के वाइजर में घुस गई थी. तब उनकी नाक में चोट लगी थी और काफी खून बहा था.

SUBSCRIBE TO OUR NEWSLETTER