चलेगी लू / उत्तर-पश्चिमी व मध्य भारत में अगले पांच दिन सताएगी गर्मी, जानिए मौसम का ताजा हाल

Zoom News : Apr 07, 2022, 09:54 AM
अप्रैल लगते ही देश के अधिकांश शहरों में गर्मी से बुरा हाल है। देश के उत्तर पश्चिमी हिस्से व मध्य भारत में अगले पांच दिन गर्मी से राहत मिलने के आसार नहीं हैं। भारतीय मौसम विभाग IMD ने इन राज्यों में लू या गर्म हवाएं चलने का अंदेशा जताया है। 

मौसम विभाग द्वारा गुरुवार को जारी बुलेटिन के अनुसार उत्तर-पश्चिमी भारत के अधिकांश हिस्सों व मध्य भारत, खासकर पश्चिमी राजस्थान में अगले पांच दिन लू चलने के आसार हैं। ऐसा ही हाल दक्षिणी हरियाणा, दिल्ली, पश्चिमी उत्तर प्रदेश व मध्य प्रदेश का भी रहेगा। इन इलाकों में गर्म हवाएं सताएंगी। 

सामान्य से ज्यादा रहेगा पारा

आईएमडी के अनुसार जम्मू-कश्मीर, हिमाचल प्रदेश, पश्चिमी राजस्थान और पंजाब में अधिकांश स्थानों पर अधिकतम तापमान सामान्य से अधिक रहेगा। अगले पांच दिनों में पश्चिमी राजस्थान में अलग-अलग स्थानों पर न्यूनतम तापमान सामान्य से 5 डिग्री सेल्सियस या इससे भी अधिक रहेगा। हालांकि, अंडमान और निकोबार द्वीप समूह में न्यूनतम तापमान सामान्य से कम रहेगा।

8 अप्रैल को महाराष्ट्र और जम्मू संभाग में लू चलने की संभावना है। अगले दो तीन दिनों में असम, मेघालय, सिक्किम और नगालैंड सहित उत्तर पूर्वी क्षेत्रों में गरज के साथ बारिश का अनुमान है। वहीं, हिमाचल प्रदेश, विदर्भ और बिहार जैसे क्षेत्रों में भी इसी तरह की स्थिति का अनुभव होने की संभावना है।

यहां पड़ेगी बौछारें

इसी तरह 9 अप्रैल को पश्चिमी राजस्थान में अलग-अलग हिस्सों में भीषण लू की स्थिति के साथ अधिकांश स्थानों पर लू की स्थिति बने रहने की संभावना है। चंडीगढ़, तटीय और दक्षिण आंतरिक कर्नाटक और केरल में अलग-अलग स्थानों पर गरज चमक के साथ बौछारें पड़ने की संभावना है।

यहां झुलसाएगी गर्मी

10 अप्रैल को पश्चिमी राजस्थान, पूर्वी राजस्थान और मध्य प्रदेश में अलग-अलग इलाकों में प्रचंड गर्मी पड़ने का अनुमान है। पश्चिमी उत्तर प्रदेश, दक्षिण हरियाणा-दिल्ली, हिमाचल प्रदेश, दक्षिण पंजाब, पूर्वी उत्तर प्रदेश, बिहार, विदर्भ और चंडीगढ़ में भी ऐसे ही हालात देखने को मिलेंगे। 

यहां होगी भारी बारिश

अरुणाचल प्रदेश को छोड़कर उत्तर पूर्व के छ राज्यों में बंगाल की खाड़ी से चलने वाली दक्षिण पश्चिमी हवाओं के कारण गरज चमक के साथ बारिश होने और कहीं कहीं भारी बारिश होने का अनुमान है। मौसम विभाग का कहना है कि दक्षिण अंडमान सागर में चक्रवाती हवाओं के कारा दक्षिण पूर्वी बंगाल में अगले 48 घंटे में एक कम दबाव का क्षेत्र बनेगा। चंडीगढ़, तटीय व अंदरुनी कर्नाटक तथा केरल में कुछ बारिश का अनुमान है।


SUBSCRIBE TO OUR NEWSLETTER