America / सिख परिवार की हत्या के बाद अमेरिका में अब भारतीय मूल के छात्र का कत्ल

Zoom News : Oct 06, 2022, 02:56 PM
अमेरिका के राज्य इंडियाना में भारतीय मूल के एक 20 वर्षीय छात्र की उसके छात्रावास में हत्या कर दी गई। उसके कोरियाई रूममेट को हिरासत में लिया गया है। पुलिस ने बताया कि इंडियानापोलिस के वरुण मनीष छेदा परिसर के पश्चिमी किनारे पर मैककचियन हॉल में मृत पाए गए। वह पर्ड्यू विश्वविद्यालय में पढ़ रहे थे। एनबीसी न्यूज ने स्कूल के पुलिस प्रमुख के हवाले से बताया कि  एक अन्य विश्वविद्यालय के छात्र को बुधवार को हत्या के आरोप में गिरफ्तार किया गया है। इससे पहले, अमेरिका के कैलिफोर्निया में अपहृत सिख परिवार के चारों सदस्य एक बगीचे में मृत मिले थे। पंजाब के होशियारपुर में हरसी पिंड के रहने वाले इस परिवार का सोमवार को अपहरण कर लिया गया था। 

पर्ड्यू विश्वविद्यालय के पुलिस प्रमुख लेस्ली विएटे ने बुधवार सुबह एक संवाददाता सम्मेलन में कहा कि कोरिया के एक जूनियर साइबर सुरक्षा प्रमुख और अंतरराष्ट्रीय छात्र जी मिन "जिमी" शा ने पुलिस को मौत के बारे में जानकारी देने के लिए बुधवार को लगभग 12:45 बजे 911 पर कॉल किया। कॉल की डिटेल्स के बारे में और अधिक जानकारी नहीं दी गई है।

हॉल की पहली मंजिल के कमरे में हुई हत्या

अधिकारियों ने कहा कि यह घटना मैककचियन हॉल की पहली मंजिल के एक कमरे में हुई। मनीष छेदा यूनिवर्सिटी में डेटा साइंस की पढ़ाई कर रहा था। फॉक्स न्यूज की रिपोर्ट के अनुसार, चीफ विएटे ने कहा कि उनका मानना है कि हमला बिना उकसावे के किया गया था।

मनीष के बचपन के दोस्त अरुणाभ सिन्हा ने 'एनबीसी न्यूज' को बताया कि वह मंगलवार की रात ऑनलाइन गेम खेल रहे थे और दोस्तों के साथ बात कर रहे थे, जब उन्होंने अचानक कॉल पर चिल्लाने की आवाज सुनी। विएटे ने कहा कि 22 वर्षीय शा को 911 कॉल के कुछ मिनट बाद हिरासत में ले लिया गया और आगे की जांच के लिए पुलिस स्टेशन ले जाया गया। पुलिस ने कहा कि छेदा की मौत आठ साल से अधिक समय में पर्ड्यू की पहली ऑन-कैंपस हत्या है। विश्वविद्यालय के अध्यक्ष मिच डेनियल्स ने कहा कि मनीष छेदा की मृत्यु एक दुखद घटना थी। 

Booking.com

SUBSCRIBE TO OUR NEWSLETTER