Chennai Super Kings / रायुडू का धोनी को लेकर बड़ा खुलासा, CSK की भी खोल दी पोल

Zoom News : May 16, 2024, 06:00 AM
Chennai Super Kings: चेन्नई सुपर किंग्स और रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु के बीच 18 मई को बेहद अहम मुकाबला होना है. RCB के होमग्राउंड पर खेला जाने वाला ये मुकाबला दोनों टीमों के लिए एक तरह से नॉकआउट मैच साबित हो सकता है. लेकिन इससे ठीक पहले धोनी की चोट और चेन्नई सुपर किंग्स को लेकर अंबाती रायुडू ने चौंकाने वाला खुलासा किया है. चेन्नई सुपर किंग्स के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी की बल्लेबाजी और इंजरी IPL 2024 में बहस का विषय रही है. कई क्रिकेट एक्सपर्ट्स का मानना था कि धोनी इस सीजन में जिस लय में दिखे हैं, उन्हें बल्लेबाजी के लिए और ऊपर आना चाहिए. लेकिन बाद में बाद में खबरें आईं कि उनकी पैर की मांसपेशियां फटी होने के कारण वो ऐसा कर रहे हैं. अंबाती रायुडू 6 सालों तक चेन्नई सुपर किंग्स का हिस्सा रहे हैं. अब स्टार स्पोर्ट्स पर आईपीएल मैच की एनालिसिस के दौरान उन्होंने धोनी और चेन्नई सुपर किंग्स की फिटनेस पर बड़ा खुलासा किया है.

4 साल से फिट नहीं धोनी

2018 से 2023 तक सीएसके के लिए खेल चुके अंबाती रायुडू ने स्टार स्पोर्ट्स पर आईपीएल मैच की एनालिसिस के दौरान बताया कि धोनी पिछले तीन-चार साल से पूरी तरह फिट नहीं हैं. हालांकि वो पिछले दो सालों से जीम में खूब पसीना बहाते हैं. वो कोशिश करते हैं कि उन्हें किसी तरह की इंजरी ना हो. इसके अलावा वो नेट में बड़े शॉट लगाने की भी खूब प्रैक्टिस करते हैं. इसलिए धोनी को गेम इंपैक्ट डालने के लिए पूरी 100 प्रतिशत फिटनेस की जरुरत नहीं है. वो हर साल इसी तरह आते हैं और बड़े मैचों में उन्होंने हमेशा टीम के लिए परफॉर्म करते हैं.

रायुडू ने खोली CSK की सीक्रेट

अंबाती रायुडू के सीएसके में 6 सालों के दौरान टीम ने 2018, 2021 और 2023 में IPL ट्रॉफी जीती. रायुडू ने चेन्नई सुपर किंग्स के सीक्रेट का खुलासा करते हुए बताया कि इन सालों में कभी भी धोनी की टीम पूरी तरह फिट नहीं थी. टीम के ज्यादातर खिलाड़ी किसी न किसी इंजरी के साथ खेलते थे. इसलिए धोनी सभी को फील्डिंग में ज्यादा रिस्क नहीं लेने की सलाह देते थे. चेन्नई सुपर किंग्स की पूरी टीम ने इन्हीं इंजरी के साथ ये तीनों ट्रॉफी जीती है. उन्होंने ये भी बताया कि 2018 में इंजरी की वजह से सीएसके की फील्डिंग अच्छी नहीं थी, जिसका नुकसान टीम को होता था. फील्डिंग के कारण वो हमेशा 20 रन ज्यादा दे देते थे.

SUBSCRIBE TO OUR NEWSLETTER