असम / 1 महिला की मौत हुई है, 4 लोगों के लापता होने की खबर है: नाव हादसे पर असम के सीएम

Zoom News : Sep 09, 2021, 07:02 AM
गुवाहाटी: असम के जोरहाट में बुधवार को बड़ा हादसा हो गया। यहां ब्रह्मपुत्र नदी में दो यात्री नौकाएं आपस में टकरा गईं। इस हादसे में कई लोग लापता बताए जा रहे हैं। मौके पर राहत और बचाव का काम तेजी से चल रहा है। एक महिला की मौत हो गई और 20 लोग लापता हो गए।

अधिकारियों ने बताया कि टक्कर तब हुई जब निजी नाव 'मा कमला' निमती घाट से माजुली की ओर जा रही थी और सरकारी स्वामित्व वाली नौका 'त्रिपकाई' माजुली से आ रही थी।

अंतर्देशीय जल परिवहन (आईडब्ल्यूटी) विभाग के एक अधिकारी ने कहा, 'मा कमला नाव पलटकर डूब गई। फिलहाल हमारे पास ज्यादा जानकारी नहीं है।' आईडब्ल्यूटी के एक अन्य अधिकारी ने कहा कि नाव पर 120 से अधिक यात्री सवार थे, लेकिन उनमें से कई को विभाग के स्वामित्व वाली 'त्रिपकाई' नौका की मदद से बचा लिया गया। जोरहाट के उपायुक्त अशोक बर्मन ने को बताया कि अब तक 41 लोगों को बचा लिया गया है और अभी तक कोई शव नहीं मिला है।

असम राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (एएसडीएमए) के मुख्य कार्यकारी अधिकारी ज्ञानेंद्र त्रिपाठी ने बताया कि नदी से बचाए जाने के बाद एक महिला की अस्पताल में मौत हो गई। उन्होंने कहा, "हमारे पास करीब 15-20 लोगों के लापता होने की खबर है। एनडीआरएफ और एसडीआरएफ की कई टीमें सेना और पैरा गोताखोरों के सहयोग से बचाव अभियान चला रही हैं।"

जोरहाट नाव की टक्कर की घटना पर असम के सीएम हिमंत बिस्वा सरमा ने बताया कि पलटी हुई उस नाव का पता लगा लिया गया है, यह घटनास्थल से 1.5 किलोमीटर की दूरी पर मिली। हमें इसके ऊपर के हिस्से को काटना होगा, तभी हम इसके नीचे पहुंच पाएंगे। एनडीआरएफ और एसडीआरएफ इसकी व्यवस्था कर रहे हैं।

नाव में कई चौपहिया और दोपहिया गाड़ियां भी थीं

जोरहाट जिला प्रशासन के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, 'हम अभी यह नहीं बता सकते कि कितने लोग मारे गए हैं।' राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल (एनडीआरएफ) और एसडीआरएफ के कर्मियों ने खोज एवं बचाव अभियान शुरू कर दिया है। नाव में कई चौपहिया और दोपहिया वाहन भी थे, जो नदी में गिर गए।

सीएम हिमंत ने बचाव अभियान में तेजी लाने का दिया निर्देश

असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्व सरमा ने दुर्घटना पर चिंता व्यक्त की और माजुली व जोरहाट के जिला प्रशासन को एनडीआरएफ और एसडीआरएफ की मदद से बचाव अभियान में तेजी लाने का निर्देश दिया। उन्होंने मंत्री बिमल बोरा को दुर्घटनास्थल पर जाने के लिए भी कहा। सरमा ने मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव समीर कुमार सिन्हा को चौबीसों घंटे घटनाक्रम की निगरानी करने को कहा। सीएमओ ने एक बयान में कहा, 'मुख्यमंत्री खुद कल स्थिति का जायजा लेने के लिए निमती घाट जाएंगे।'

राहुल गांधी ने कांग्रेस कार्यकर्ताओं से की मदद करने की अपील

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने असम में हुई नौका दुर्घटना पर बुधवार को दुख व्यक्त किया और उम्मीद जताई कि बचाव अभियान से बहुत सारे लोगों की जान बचाई जा सकेगी। उन्होंने फेसबुक पोस्ट में कहा, ‘असम में नौका डूबने की दुखद की घटना की खबर मिली। ब्यौरे की प्रतीक्षा है। मैं पीड़ितों के परिवारों के प्रति अपनी संवेदना प्रकट करता हूं।’ राहुल गांधी ने स्थानीय कांग्रेस कार्यकर्ताओं से अपील की है कि वे राहत एवं बचाव कार्यक्रम में हर संभव मदद करें।

अम‍ित शाह ने असम सीएम को फोन करके दिया मदद का भरोसा

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने बुधवार को असम में हुई नौका दुर्घटना पर दुख जताया, जिसमें कई लोगों के नदी में डूबने की आशंका है। उन्होंने बचाव अभियान में केंद्र सरकार की ओर से हरसंभव मदद का आश्वासन दिया। शाह ने असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्व सरमा से भी बात की। सरमा ने उन्हें पीड़ितों के बचाव के लिए उठाए गए कदमों के बारे में जानकारी दी।

शाह ने ट्वीट किया, 'असम में हुई नाव दुर्घटना के बारे में जानकर दुख हुआ। मुख्यमंत्री श्री हिमंत बिस्व सरमा से बात की है। राज्य का प्रशासन लोगों को बचाने के लिए हर संभव प्रयास कर रहा है। हम लगातार स्थिति की निगरानी कर रहे हैं। केंद्र सरकार की तरफ से पूर्ण सहयोग का आश्वासन दिया है।'

हादसे पर पीएम मोदीने जताया दुख

प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने असम में हुई नाव दुर्घटना पर बुधवार को दुख व्‍यक्‍त किया और कहा कि यात्रियों को बचाने के हरसंभव प्रयास किए जा रहे हैं। प्रधानमंत्री मोदी ने एक ट्वीट में कहा, 'असम में हुई नाव दुर्घटना से दुखी हूं। यात्रियों को बचाने के लिए हरसंभव प्रयास किए जा रहे हैं। मैं सभी की सुरक्षा और कल्याण के लिए प्रार्थना करता हूं।'

सोनोवाल ने हर संभव मदद मुहैया कराने का द‍िया न‍िर्देश

उधर, पूर्व मुख्‍यमंत्री और केंद्रीय जहाजरानी मंत्री सर्बानंद सोनोवाल ने असम के माजुली में बुधवार को हुए एक नौका हादसे को लेकर चिंता व्यक्त करते हुए अपने मंत्रालय को बचाव अभियान में हर संभव मदद मुहैया कराने का निर्देश दिया है। सोनोवाल ने असम के मुख्यमंत्री से फोन पर बात की और जारी बचाव एवं राहत कार्य की जानकारी हासिल की।

Booking.com

SUBSCRIBE TO OUR NEWSLETTER