Lok Sabha Election / MP के 41 सिटिंग टिकट कटे, 27% बदले चेहरे... किन पर BJP ने जताया भरोसा

Zoom News : Mar 03, 2024, 12:00 PM
Lok Sabha Election: लोकसभा चुनाव की बीजेपी की पहली सूची में 49 चेहरे बदले गए हैं. 195 उम्मीदवारों की पहली सूची में कुल 41 सिटिंग सांसदों के टिकट काटे गए हैं, तो 8 विगत विधानसभा चुनावों में विधायक का चुनाव लड़ाए गए. अगर हम राज्यवार ड्रॉप आउट देखें तो मध्य प्रदेश से लोकसभा चुनाव की पहली सूची में 11 सीटों पर उम्मीदवार बदले गए हैं.

मध्य प्रदेश की वो सीटें जहां मौजूदा सांसदों के टिकट कटे उसमें भोपाल से साध्वी प्रज्ञा सिंह का टिकट काटा गया है. उनकी जगह पूर्व मेयर आलोक शर्मा को टिकट दिया गया है. गुना से केपी यादव की जगह ज्योतिरादित्य सिंधिया को टिकट मिला है. 2019 में सिंधिया को केपी ने ही हराया था. सागर से मौजूदा सांसद राजबहादुर सिंह की बजाय महिला आयोग की पूर्व अध्यक्ष लता वानखेड़े को टिकट दिया गया है.

रतलाम से जीएस डामोर की जगह मोहन सरकार में वन मंत्री नागर सिंह चौहान की पत्नी अनीता नागर सिंह चौहान को मौका दिया गया है. विदिशा से रमाकांत भार्गव की जगह पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान को चुनावी मैदान में उतारा गया है. शिवराज यहां से 5 बार सांसद रह चुके हैं. ग्वालियर से विवेक शेजवलकर का टिकट काटकर पूर्व मंत्री भारत सिंह कुशवाह को चुनाव लड़ाया जा रहा है.

मुरैना से शिवमंगल सिंह तोमर को टिकट दिया

एमपी विधानसभा चुनाव में सांसदों को भी उतारा गया था, जिसमें से कई मंत्री बन चुके हैं. लिहाजा उन सीटों पर अब नए चेहरों को टिकट दिया गया. मुरैना में शिवमंगल सिंह तोमर को टिकट दिया गया है. यहां से सांसद रहे नरेंद्र सिंह तोमर ने विधानसभा चुनाव लड़ा था. वे अभी विधानसभा अध्यक्ष हैं. सीधी से डॉ. राजेश मिश्रा को टिकट दिया गया है. यहां से सांसद रहीं रीति पाठक ने विधानसभा चुनाव लड़ा था. वे अभी विधायक हैं.

होशंगाबाद यहां से दर्शन सिंह चौधरी को टिकट दिया गया है. यहां से सांसद रहे राव उदय प्रताप सिंह विधायक बनकर राज्य सरकार में कैबिनेट मंत्री हैं. जबलपुर से आशीष दुबे को टिकट दिया गया है. यहां से सांसद रहे राकेश सिंह विधायक बनकर प्रदेश सरकार में कैबिनेट मंत्री हैं. दमोह से राहुल लोधी को टिकट दिया गया है. यहां से सांसद रहे प्रहलाद सिंह पटेल विधायक बनकर प्रदेश सरकार में कैबिनेट मंत्री हैं.

बात करें गुजरात की तो सूबे 5 सिटिंग सांसदों के टिकट काटे गए हैं. सूबे के राजकोट से मोहन कुंडारिया की पुरुषोत्तम रुपाला को टिकट दिया गया. पोरबंदर से रमेश धादुक की मनसुख मंडाविया को दिया गया. अहमदाबाद ईस्ट से किरीट सोलंकी की जगह दिनेश भाई मकवाना को टिकट दिया गया. बनासकांठा से परबत पटेल के जगह रेखा बेन हितेश भाई चौधरी को टिकट दिया गया. पंचमहाल से रतन सिंह राठौड़ के जगह राजपाल सिंह महेंद्र सिंह यादव को टिकट दिया.

झारखंड के 2 मौजूदा सांसदों का टिकट काटा

वहीं, झारखंड के 2 मौजूदा सांसदों को ड्रॉप किया गया है. इसमें हजारीबाग से सांसद जयंत सिन्हा की जगह मनीष जायसवाल को टिकट दिया गया. दूसरा टिकट लोहरदगा से सुदर्शन भगत की टिकट काट कर समीर ओरांव को दिया गया.

राजस्थान में 5 सिटिंग सांसदों की टिकट काटी गई, जबकि 3 को विधानसभा चुनाव लड़ाया गया था. मौजूदा सांसदों में चूरू से राहुल कसवा की जगह देवेंद्र झाझरिया को टिकट दिया गया. भरतपुर से रंजीता कोली का काटकर रामस्वरूप को टिकट दिया. जालोर सिरोही से देवजी पटेल का टिकट काटकर लुंबाराम चौधरी को दिया. उदयपुर से अर्जुन लाल मीणा की जगह मनालाल रावत को टिकट और बांसवाड़ा से कनकमल कटारा की जगह महेंद्रजीत सिंह मालवीया को दिया.

त्रिपुरा पश्चिम से केंद्रीय राज्यमंत्री प्रतिमा भौमिक की जगह पूर्व मुख्यमंत्री बिप्लब कुमार देब को टिकट, जबकि उत्तर प्रदेश के जारी 51 प्रत्याशियों के नामों में से केवल 1 सिटिंग सांसद का टिकट काटा गया. नगीना लोकसभा से गिरीश चंद्र का टिकट काटकर ओम कुमार को दिया.

दिल्ली में 5 में से चार प्रत्याशी बदले

दिल्ली के 5 में से 4 सिटिंग प्रत्याशियों को बदल दिया गया है. केवल मनोज तिवारी को ही फिर से टिकट मिला है. पार्टी ने निवर्तमान सांसद मीनाक्षी लेखी, हर्षवर्धन, प्रवेश वर्मा और रमेश बिधूड़ी का टिकट काट दिया है, जबकि असम में 5 सिटिंग लोकसभा उम्मीदवारों को ड्रॉप किया गया है, जिसमें सिलचर से राजदीप राय, गुवाहाटी से क्वीन ओझा, तेजपुर से पल्लव लोचन दास, कार्बी आंगलोंग से हरेन सिंह बे और डिब्रूगढ़ से रामेश्वर तेली (केंद्रीय राज्य मंत्री) शामिल हैं.

छत्तीसगढ़ के जारी 11 में से 7 उम्मीदवारों को बदला गया है. 7 में से 3 सांसद विधायक बन चुके हैं. बिलासपुर से अरुण साव की जगह अब लोकसभा चुनाव में तोखन साहू को प्रत्याशी बनाया गया है. रायगढ़ से गोमती साय की जगह राधेश्याम राठिया को लोकसभा का प्रत्याशी बनाया गया है. सरगुजा से रेणुका सिंह की जगह चिंतामणि महाराज को प्रत्याशी बनाया गया है.

छत्तीसगढ़ में पांच मौजूदा सांसदों का टिकट कटे

बता दें कि इन तीनों लोकसभा सीट से सांसदों को विधानसभा के चुनाव में जीत के बाद यह सीट खाली हो गई थी. छत्तीसगढ़ में पांच मौजूदा सांसदों का टिकट कट गया है, जिसमें रायपुर सांसद सुनील सोनी का टिकट काटकर बृजमोहन अग्रवाल को प्रत्याशी बनाया गया है. महासमुंद चुन्नीलाल साहू का टिकट काटकर रूप कुमारी चौधरी को प्रत्याशी बनाया गया है. जांजगीर से गुहाराम अजगले का टिकट काटने के बाद कमलेश जांगड़े को लोकसभा सीट से प्रत्याशी बनाया गया है. इसके अलावा कांकेर से विक्रम उसेंडी का टिकट काटकर भोजराज नाग को प्रत्याशी बनाया गया है.

इस तरह से बीजेपी की 195 की पहली सूची में 49 चेहरे बदल दिए गए हैं यानी मोटे तौर पर 27 फीसदी प्रत्याशी बदल दिए गए हैं. पार्टी के जानकारों के मुताबिक भविष्य में आने वाले अन्य सूचियों में टिकट काटने और चेहरे बदलने का ये सिलसिला बढ़ेगा.

SUBSCRIBE TO OUR NEWSLETTER