देश / स्वदेशी सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल ब्रह्मोस का परीक्षण सफल, DRDO ने कहा- प्राइम स्ट्राइक वेपन

Zoom News : Oct 18, 2020, 01:56 PM
नई दिल्ली | भारत के एक बड़ी कामयाबी हाथ लगी है। भारत ने रविवार को भारतीय नेवी के स्वदेशी स्टील्थ डिस्ट्रॉयर INS चेन्नई से सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल ब्रह्मोस का सफलतापूर्वक परीक्षण किया। डिफेंस रिसर्च एंड डिवेलपमेंट ऑर्गनाइजेशन (DRDO) ने एक बयान जारी करके यह जानकारी दी है। 

अरब सागर में INS चेन्नई से दागे गए मिसाइल ने उच्चस्तरीय और बेहद जटिल युद्धाभ्यास के बाद लक्ष्य को सटीकता से पिन-पॉइंट सटीकता से मार गिराया। डीआरडीओ ने कहा कि ब्रह्मोस एक 'प्राइम स्ट्राइक वेपन' है, जो  लंबी दूरी पर मौजूद सतह के लक्ष्यों को उलझाकर युद्धपोत की अजेयता सुनिश्चित करेगा। इस तरह विध्वंसक को भारतीय नौसेना का एक और घातक मंच बना देगा।

कई गुणों से लैस ब्रह्मोस को भारत और रूस द्वारा संयुक्त रूप से डिजाइन, विकसित और निर्मित किया गया है। रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने डीआरडीओ, ब्रह्मोस और भारतीय नेवी को सफलतापूर्वक लॉन्च के लिए बधाई दी। DDR&D के सेक्रेटरी और डीआरडीओ चेयरमैन डॉ. जी सतीश रेड्डी ने भी वैज्ञानिकों, डीआरडीओ के सभी कर्मचारियों, ब्रह्मोस और भारतीय नेवी को इस सफलता के लिए शुभकामनाएं दीं। उन्होंने कहा कि यह भारतीय सेना की क्षमता को कई तरीकों से बढ़ाएगा।

Booking.com

SUBSCRIBE TO OUR NEWSLETTER