मुंबई / अयोध्या में राम मंदिर के निर्माण के लिए लाया जाए विशेष कानून: उद्धव ठाकरे

The Quint : Oct 09, 2019, 10:29 AM

मुंबई. हर साल की तरह इस बार भी दशहरे पर मुंबई के शिवाजी पार्क में शिवसेना ने विशाल रैली का आयोजन किया. इस रैली में शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने मंच से ही केंद्र सरकार से देश में यूनिफॉर्म सिविल कोड लागू करने की मांग की. इसी के साथ अयोध्या में राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद विवाद पर उद्धव ठाकरे ने कहा, 'राम मंदिर पर राजनीति नहीं होनी चाहिए. राम मंदिर बनाने का वादा पूरा होना चाहिए.'

ठाकरे ने अयोध्या में विवादित राम जन्म भूमि बनाने के लिए विशेष कानून बनाने का आह्वान किया. उन्होंने कहा, शिवसेना के लिए राम मंदिर का मुद्दा राजनीति से ऊपर है और महाराष्ट्र में आगामी विधानसभा चुनावों से संबंधित नहीं है.

प्रधानमंत्री ने कहा राम मंदिर पर कोई बयान न दें, कोर्ट में केस है. लेकिन, मामला पिछले 35 सालों से लंबित है. हमारी मांग है कि विशेष कानून लाकर अयोध्या में राम मंदिर बनाया जाए.

जिस दिन राम ने रावण का वध किया, उस दिन कोर्ट बंद है. जिस दिन राम अयोध्या लौटे, उस दिन भी अदालतें बंद हैं. लेकिन, मुद्दा ये है कि क्या राम का जन्म अयोध्या में हुआ था. ये कहा जा रहा है कि इस महीने कोर्ट अपना फैसला सुना देगा. शिवसेना राजनीति के लिए मंदिर की मांग नहीं कर रही है.

महाराष्ट्र में 21 अक्टूबर को विधानसभा चुनाव हैं. 24 अक्टूबर को चुनाव के नतीजे आएंगे. इसपर ठाकरे ने कहा, 'एक महीने में हम दो बार विजयादशमी मनाएंगे. एक विजयादशमी आज और दूसरी विजयादशमी 24 तारीख को चुनाव नतीजे वाले दिन मनाएंगे.'

उद्धव ने अनुच्छेद 370 खत्म करने के लिए शाह को सराहा

शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने जम्मू-कश्मीर को विशेष दर्जा देने वाले आर्टिकल 370 को खत्म करने के लिए अमित शाह की तारीफ की. उद्धव ने शाह को एक ऐसा शख्स करार दिया, जो अपने वादों को पूरा करते हैं और कहा कि अनुच्छेद 370 को समाप्त करना शिवसेना के संस्थापक बालासाहेब ठाकरे का एक सपना था. ठाकरे ने कहा, "अमित भाई जो कहते हैं, उसे करते हैं. आर्टिकल 370 खत्म होने से बालासाहेब ठाकरे का सपना पूरा हुआ है. अब हम समान नागरिक संहिता चाहते हैं."

उद्धव ठाकरे के संबोधन की बड़ी बातें

हमारी मांग है, देशभर में यूनिफॉर्म सिविल कोड लागू करे सरकार

हम आर्टिकल 370 के हमेशा खिलाफ थे और इस बात को लेकर शिवसेना ने हमेशा आवाज उठाई.

जब तक शरद पवार और कांग्रेस हमें टारगेट करते रहेंगे, हमारा टारगेट भी वही रहेंगे

देश से बांग्लादेश के घुसपैठियों को फौरन निकाला जाए.

हमारी सरकार आने पर हम दस रुपये में खाने की थाली मुहैया कराएंगे और 1 रुपये में इलाज होगा.

हमारी सरकार किसानों का पूरी तरह कर्ज माफ करेगी

शिवाजी महाराज की सेना में महाराष्ट्र के मुसलमान और दूसरे सभी धर्मों के लोगों ने दिल्ली के शासकों का तख्त हिला दिया था

हमारी शिवसेना मुसलमानों का भी स्वागत करती है

शिवसेना किसी के सामने झुकी नहीं, शिवसेना सिर्फ मराठी और छत्रपति के सामने झुकेगी

मगरमच्छ के आंखों में आंसू होते हैं. अजित पवार के आंख में आंसू देखें. आपके कर्मों से आंखों में आंसू आए हैं.