तकनीक / गूगल प्ले स्टोर पर लौटी कैमस्कैनर ऐप, मैलवेयर अटैक के कारण विवादों में थीं

Dainik Bhaskar : Sep 09, 2019, 04:13 PM

गैजेट डेस्क. पॉपुलर डॉक्यूमेंट स्कैनिंग ऐप कैमस्कैनर ने एक बार फिर गूगल प्ले स्टोर पर वापसी कर ली है। कुछ दिन पहले मैलवेयर अटैक के कारण विवादों में आई इस ऐप को कुछ समय के लिए गूगल ने प्ले स्टोर से हटा दिया गया था। कैमस्कैनर ऐप में प्री-इंस्टॉल मैलवेयर था जिसकी मदद से कई गैर-जरूरी ऐप फोन में इंस्टॉल हो रही थी। हालांकि कंपनी ने इस दिक्कत को दूर कर लिया है जिसके बाद ऐप ने एक बार फिर प्लेस्टोर पर वापसी कर ली है।

प्लेस्टोर पर उपलब्ध है नया वर्जन

कैमस्कैनर ने अपने ऑफिशियल ट्विटर हैंडल के जरिए यूजर्स को जानकारी दी कि कैमस्कैनर ने दोबारा गूगल प्ले स्टोर पर वापसी कर ली है। यह अपग्रेड वर्जन 5.12.5 के साथ प्ले स्टोर पर डाउनलोड के लिए उपलब्ध है। जो पहले से ज्यादा सुरक्षित है। कैमस्कैनर पॉपुलर डॉक्यूमेंट स्कैनिंग ऐप है जो फोटो को पीडीएफ फाइल में कन्वर्ट करती है।

मैलवेयर मिलने से विवादों में थी ऐप

कास्परस्काई लैब ने अपनी रिपोर्ट में बताया था कि ऐप में Trojan-Dropper.AndroidOS.Necro.n मैलवेयर मौजूद है। जिसके मदद से फोन को आसानी से हैक किया जा सकता था।

इस मैलवेयर को पहले भी कई ऐप में देखा जा चुका है। यह खासतौर पर उन ऐप में देखा जा चुका है जो चीनी स्मार्टफोन क साथ प्री-इंस्टॉल मिलते हैं।

इस ऐप के साथ मैलिशस मॉड्यूल वाली ऐडवर्टाइजिंग लाइब्रेरी भी डिवाइसेज में डाउनलोड हो रही थी। इससे ऐड पुश होते थे और फोन में कई ऐप्स इन्स्टॉल हो जाते थे। हालांकि इस मैलवेयर से सिर्फ ऐप का एंड्रॉयड वर्जन प्रभावित हुआ था।