महाराष्ट्र / घर लौटने की आस, पटरी पर टूट गई सांस, औरंगाबाद हादसे का ऐसा था मंजर

AajTak : May 08, 2020, 08:59 AM
महाराष्ट्र: देशभर में कोरोना वायरस का कहर जारी है। इसी बीच महाराष्ट्र के औरंगाबाद से एक दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है। यहां रेल की पटरी पर प्रवासी मजदूरों को एक मालगाड़ी ने रौंद दिया। औरंगाबाद के जालना रेलवे लाइन के पास ये हादसा हुआ है, जिसमें 15 मजदूरों की मौत हो गई है। ये हादसा औरंगाबाद-जालना रेलवे लाइन पर शुक्रवार सुबह 6.30 बजे के करीब हुआ है।

दरअसल, जानकारी के मुताबिक शुक्रवार सुबह करीब 6.30 बजे एक मालगाड़ी ट्रैक पर मजदूरों के ऊपर से गुजर गई और हादसे में एक दर्जन से ज्यादा मजदूरों की मौत हो गई। ये सभी प्रवासी मजदूर अपने घर छत्तीसगढ़ पैदल जा रहे थे और आराम करने के लिए पटरी के पास रुके थे। घटना के बाद स्थानीय प्रशासन और रेलवे के अधिकारी मौके पर पहुंचे हैं। 

दक्षिण सेंट्रल रेलवे की चीफ पब्लिक रिलेशन ऑफिसर का कहना है कि औरंगाबाद में कर्माड के पास एक हादसा हुआ है, जहां मालगाड़ी का एक खाली डब्बा कुछ लोगों के ऊपर चल गया है। आरपीएफ और स्थानीय पुलिस मौके पर मौजूद है। 

कोरोना वायरस की वजह से लगे लॉकडाउन के कारण देशभर में मजदूर फंस गए थे। कई जगह से हजारों की संख्या में मजदूर पैदल ही अपने गांव-घर की ओर निकल रहे थे। ऐसे में रात को रुकने के लिए सैकड़ों मजदूरों ने रेलवे ट्रैक का सहारा लिया।

 बीते दिनों केंद्र सरकार की ओर से मजदूरों को उनके राज्य वापस भेजने की इजाजत दे दी गई थी। जिसके बाद राज्य सरकारों ने बसों की व्यवस्था कर अपने मजदूरों को बुलाया। इसके अलावा रेलवे की ओर से स्पेशल श्रमिक ट्रेन भी चलाई गई हैं, जो मजदूरों को उनके राज्य पहुंचा रही हैं।

लॉकडाउन का जब पहली बार ऐलान हुआ था, उसके बाद से ही लाखों की संख्या में मजदूर जहां पर थे, वहां फंस गए थे। खाने, रोजगार की चिंता में लिप्त मजदूर पैदल ही अपने गांवों की ओर चल दिए थे, इसके पहले भी रास्ते में हुए कुछ हादसों में प्रवासी मजदूर अपनी जान बीते दिनों गंवा चुके हैं। 

Booking.com

SUBSCRIBE TO OUR NEWSLETTER