Indian Railway / देश के इन 121 स्टेशनों भारतीय रेलवे करेगा यूडीएफ लागू, बढेगा ट्रेनों का किराया

Zoom News : Nov 01, 2020, 04:27 PM
नई दिल्‍ली. भारतीय रेलवे 100 से अधिक स्टेशनों पर उपयोगकर्ता विकास शुल्क योजना (UDF योजना) लागू करने की तैयारी कर रहा है। इसके तहत, इन स्टेशनों पर पहुंचने वाले उपयोगकर्ताओं से एक उपयोगकर्ता शुल्क लिया जाएगा। दरअसल, रेलवे नवंबर 2020 के दौरान देश के 121 स्टेशनों पर यूडीएफ लागू करेगा। साथ ही, इन स्टेशनों पर प्लेटफॉर्म टिकट की कीमत को दोगुना करने पर भी विचार किया जा रहा है। आपको बता दें कि ज्यादातर स्टेशनों पर प्लेटफॉर्म टिकट की कीमत 10 रुपये है, जिसे बढ़ाकर 20 रुपये किया जाएगा, यानी स्टेशन पर किसी को लाने या छोड़ने पर भी लोगों को दोगुना भुगतान करना होगा। इन स्टेशनों के लिए ट्रेन का किराया भी बढ़ाया जा सकता है।


कुछ स्टेशनों के पुन: विकास पर 50 हजार करोड़ रुपये खर्च होंगे

भारतीय रेलवे वर्तमान में चयनित स्टेशनों के पुन: विकास के लिए निजी कंपनियों के साथ काम कर रहा है। इन स्टेशनों में निजी कंपनियों द्वारा स्वच्छता, नवीकरण, सौंदर्य, रखरखाव, विकास कार्य किए जा रहे हैं। ये निजी कंपनियां रेलवे स्टेशनों के पुन: विकास पर 50 हजार करोड़ रुपये खर्च करेंगी। ऐसी स्थिति में, उपयोगकर्ता शुल्क को बोली दस्तावेज में भी शामिल किया गया है ताकि अधिक निवेश आकर्षित किया जा सके। नागपुर, नेल्लोर, पुदुचेरी, देहरादून, ग्वालियर स्टेशनों के लिए उपयोगकर्ता शुल्क प्रस्ताव में शामिल किए जा रहे हैं। उपयोगकर्ताओं के प्रभार को शुरू में 121 स्टेशनों पर लागू किया जाएगा।


उपयोगकर्ता शुल्क देश के 10-15% स्टेशनों पर वसूला जा सकता है

रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष और सीईओ विनोद कुमार यादव (वी के यादव) ने सितंबर 2020 में बताया था कि कुछ रेलवे स्टेशनों पर उपयोगकर्ता शुल्क भी वसूला जाएगा, जैसे हवाई अड्डों पर उपयोगकर्ता शुल्क लगाया जाता है। भारतीय रेलवे ने कहा था कि कुल रेलवे स्टेशनों का 10 से 15 प्रतिशत उपयोगकर्ता स्टेशनों पर वसूला जाएगा। यादव ने बताया था कि 1050 स्टेशनों पर यात्रियों की पैदल यात्रा बढ़ाई जाएगी। फुटफॉल की क्षमता बढ़ाने के लिए स्टेशनों का पुनर्निर्माण किया जाएगा। इन स्टेशनों पर एक उपयोगकर्ता शुल्क लिया जाएगा। बता दें कि देशभर में करीब 7000 रेलवे स्टेशन हैं।

Booking.com

SUBSCRIBE TO OUR NEWSLETTER