Lifestyle / ये 5 सब्जियां पहुंचा सकती हैं शरीर को नुकसान, जानकर हो जाएंगे हैरान

Zoom News : Jun 08, 2021, 08:51 PM
Lifestyle: कोरोना काल में एक चीज है जिसपर लोगों ने तसल्ली से ध्यान दिया और वो है खान-पान। जी हां, कमजोर इम्यूनिटी वालों पर कोरोना ज्यादा असर करता है। ऐसे में लोगों ने अपने खान-पान में सुधार कर इम्यूनिटी को मजबूत किया ताकि कोरोना को मात दे सकें। बेहतर खान-पान में वेजिटेबल्स और फ्रूट्स सबसे महत्वपूर्ण होते हैं। लेकिन कुछ वेजिटेबल्स ऐसे भी हैं जो ज्यादा मात्रा में खाने पर फायदे से ज्यादा नुकसान पहुंचा सकते हैं। ऐसे में आइए जानते हैं कौन-से ऐसे वेजिटेबल हैं जिनके ज्यादा मात्रा में लेने पर शरीर में अजीब सी गड़बड़ हो सकती है। 

फूलगोभी

गोभी फैमिली की सब्जियों को कच्चा खाने से बचना चाहिए। लोग अक्सर सलाद में ब्रोकली और पत्ता गोभी खाते हैं लेकिन इन्हें कच्चा खाने से आपके पेट में गैस और अपच की समस्या हो सकती है। इसके अलावा कई लोग फूलगोभी को भी कच्चा खा लेते हैं जो सेहत के लिए नुकसान दायक हो सकती है। असल में इन सब्जियों में एक तरह की शुगर होती है जो बिना पकाए पेट में नहीं घुलती। इन सब्जियों का भरपूर फायदा लेने  के लिए इन्हें पका कर ही खाना चाहिए।

बैंगन

बैंगन भी आपके पेट को नुकसान पहुंचा सकता है। बैंगन को कच्चा खाने से उल्टी, चक्कर आना या पेट में ऐंठन की समस्या हो सकती है। बैंगन में पाया जाना वाला सोलनिन न्यूरोलॉजिकल और गैस्ट्रो इंटेस्टाइनल समस्या के लक्षण पैदा कर सकता है। इसलिए बैंगन को हमेशा पका कर ही खाना चाहिए।

चुकंदर

हीमोग्लोबिन बढ़ाने और वजन घटाने में चुकंदर काफी फायदेमंद है। कुछ लोग इसे सलाद और सैंडविच में लेते हैं तो कई लोग इसका जूस पीते हैं। कई लोगों ने यह देखा होगा कि चुकंदर का अधिक सेवन करने से पेशाब का रंग लाल या गुलाबी दिखने लगता है। ऐसा होने का कारण चुकंदर के अंदर पाए जाने वाले तत्व हैं। लेकिन इसमें घबराने की जरूरत नहीं है। यह बहुत ही साधारण है। लेकिन चुकंदर का सेवन आपको सीमित मात्रा में ही करना चाहिए।

मशरूम

मशरूम विटामिन डी बेहतरीन स्रोतों में से एक माना जाता है। लेकिन कुछ लोगों को इसके सेवन से स्किन एलर्जी की समस्या हो जाती है। हालांकि ऐसा तब होता है जब कोई व्यक्ति शिटाकी मशरूम का सेवन करता है। ऐसे में सलाह दी जाती है कि मशरूम को पूरी तरह से पकाकर खाएं। 

गाजर

वैसे तो गाजर पोषक तत्वों से भरपूर होता है। लेकिन गाजर खाते समय इसकी मात्रा का ध्यान रखना बेहद जरूरी है। अगर आप अधिक मात्रा में गाजर का सेवन करते हैं तो इससे आपकी स्किन का रंग बदल कर पीला या नारंगी हो जाता है। ऐसा इसलिए होता है क्योंकि गाजर के अंदर बीटा कैरोटीन होता है जो अधिक मात्रा में आपके शरीर में प्रवेश कर लेता है। इसकी अधिक मात्रा के चलते यह खून में प्रवाहित न होकर स्किन में ही जम जाता है। यह रंग ज्यादा पैरों, हाथों और तलवों पर ही दिखाई देता है।

SUBSCRIBE TO OUR NEWSLETTER