PM Modi in G7 Summit / G7 में बेहद अलग अंदाज में मिले PM मोदी-मेलोनी, करेंगे द्विपक्षीय वार्ता

Vikrant Shekhawat : Jun 14, 2024, 07:55 PM
PM Modi in G7 Summit: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और इटली की पीएम जॉर्जिया मेलोनी के बीच अब से कुछ देर पहले अपुलिया में मुलाकात हुई। यह मुलाकात बेहद खास रही। पीएम मोदी ने इस बार भारत की सांस्कृतिक परंपरा के अनुसार जॉर्जिया मेलोनो को हाथ जोड़कर नमस्ते किया। इसके बाद इटली की पीएम ने भी हाथ जोड़कर प्रधानमंत्री मोदी का अभिवादन किया। तीसरी बार पीएम बनने के बाद मेलोनी और मोदी की यह पहली मुलाकात है। दोनों नेता G7 से इतर द्विपक्षीय वार्ता भी करने वाले हैं। 

बता दें कि जॉर्जिया मेलोनी के ही निमंत्रण पर पीएम मोदी इटली में चल रहे 50वें जी7 शिखर सम्मेलन में हिस्सा लेने इटली पहुंचे हैं।  पीएम मोदी G7 की बैठक में शामिल होने के बाद इतर इटली की प्रधानमंत्री मेलोनी के साथ द्विपक्षीय वार्ता करेंगे। भारत से रवाना होने से पहले प्रधानमंत्री ने कहा था, ‘‘पिछले साल प्रधानमंत्री मेलोनी की भारत की दो यात्राओं ने हमारे द्विपक्षीय एजेंडे को गति और गहराई देने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई।’’ उन्होंने कहा, ‘‘हम भारत-इटली रणनीतिक साझेदारी को मजबूत करने और हिंद-प्रशांत एवं भूमध्यसागरीय क्षेत्रों में सहयोग बढ़ाने के लिए प्रतिबद्ध हैं।’’ प्रधानमंत्री के शिखर सम्मेलन से इतर कई द्विपक्षीय बैठकें करने की संभावना है। 

भारत-इटली के हैं मजबूत संबंध 

भारत और इटली दोनों लोकतात्रिक देश हैं और दोनों के बीच घनिष्ठ मैत्रीपूर्ण संबंध हैं। दोनों देश कानून के शासन, मानवाधिकारों के सम्मान और समावेशी विकास के माध्यम से आर्थिक विकास के लक्ष्यों को प्राप्त करने के लिए प्रतिबद्ध हैं। दोनों देशों ने पिछले साल राजनयिक संबंधों की स्थापना के 75 वर्ष पूरे होने का जश्न भी मनाया था। पीएम नरेंद्र मोदी ने अक्टूबर 2021 में G20 शिखर सम्मेलन के लिए इटली का दौरा किया। इतालवी पीएम जॉर्जिया मैलोनी ने मार्च 2023 में राजकीय यात्रा पर भारत का दौरा किया।  मैलोनी G20 शिखर सम्मेलन के लिए भारत भी आईं थी।

भारत-इटली इन क्षेत्रों में करते हैं आपसी सहयोग

भारत और इटली रक्षा, ऊर्जा और विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी समेत कई मुद्दों पर साथ मिलकर काम करते हैं। पीएम मोदी के इस दौरे से दोनों देशों के बीच द्विपक्षीय संबंधों को ‘रणनीतिक साझेदारी’ के स्तर तक भी बढ़ाया जा सकता है। इससे पहले  G20 से संबंधित बैठकों के लिए इटली के कई मंत्रियों ने 2023 में भारत का दौरा किया था। इस दौरान दोनों देशों के बीच व्यापार, वित्त, कृषि, शिक्षा समेत संस्कृति जैसे विषयों पर बात हुई थी। इतालवी सीनेट और चैंबर ऑफ डेप्युटीज के स्पीकर और अध्यक्ष ने पिछले साल P20 की बैठक में भी भाग लिया था। 

SUBSCRIBE TO OUR NEWSLETTER