PUNJAB / एक गाने ने मचा दी पंजाब की सियासत में हलचल, मूसेवाला पर तीखे सवाल

Zoom News : Oct 09, 2022, 09:54 PM
पंजाबी गायिका जैनी जोहल के एक गाने ने पंजाब की सियासत में हलचल मचा दी है। अपने 4.14 मिनट के इस गाने में जैनी जोहल ने पंजाबी सिंगर सिद्धू मूसेवाला हत्याकांड में इंसाफ की मांग की है। साथ ही पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान से सवाल किए गए हैं कि मूसेवाला की हत्या को 4 महीने बीत चुके हैं, तो बताया जाए कि इंसाफ कहां है? इस गाने में मूसेवाला की सिक्योरिटी घटाए जाने की खबर मीडिया में लीक होने का मुद्दा भी उठाया गया। इसके अलावा मान के गुजरात के चुनावी दौरे पर भी कटाक्ष किया गया है। 8 अक्टूबर को ही यह गाना रिलीज हुआ था और यूट्यूब पर अब इसे बैन कर दिया गया है। हालांकि ब्लॉक होने से पहले इसे 2.32 लाख लोग देख चुके थे। गाने का टाइटल 'लैटर टू सी.एम.' है। 

अब इस विवाद में दिवंगत पंजाबी गायक सिद्धू मूसेवाला के पिता बलकौर सिंह भी कूद गए हैं। उन्होंने फिर पंजाब सरकार पर बरसते हुए कहा कि पंजाब सरकार को पुलिस अफसरों और गैंगस्टरों का गठजोड़ दिखाई नहीं दे रहा है। बलकौर सिंह रविवार को बठिंडा के गांव महराज में एक रैली को संबोधित कर रहे थे। 

जैनी जोहल के समर्थन में उतरे मूसेवाला के पिता

बलकौर सिंह ने कहा कि सरकार पंजाब की कानून-व्यवस्था को बहाल रखने में फेल साबित हो रही है। मूसेवाला के लिए इंसाफ की मांग करने वाले महिला सिंगर के गीत को यूट्यूब से डिलीट करने पर बलकौर सिंह ने कहा कि सरकारों को सच पसंद नहीं आ रहा। लेकिन अगर महिला गायक के साथ सरकार या पुलिस प्रशासन ने कोई भी अनहोनी की तो पूरा परिवार और पंजाब के लोग महिला गायक के साथ खड़े होंगे। मूसेवाला के पिता ने कहा कि उनका बेटा अपने गीतों के जरिए सच बोल रहा था लेकिन सरकारों को युवा सच बोलते हुए अच्छे नहीं लगे।

अभिव्यक्ति की आजादी की बात करने वाले ही गाने बैन करवा रहे: मजीठिया

वहीं, इसी मसले पर शिरोमणि अकाली दल ने भी मुख्यमंत्री भगवंत मान के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। शिरोमणि अकाली दल के वरिष्ठ नेता बिक्रम सिंह मजीठिया ने कहा है कि मुख्यमंत्री भगवंत मान पंजाब की बेटी के सवालों का जवाब देने से डर क्यों रहे हैं? सिंगर जैनी जोहल के गीत को बैन करवा कर सच्चाई को नहीं दबाया जा सकता।

पत्रकारों से बात करते हुए मजीठिया ने कहा कि ये बहुत हैरानी वाली बात है कि अभिव्यक्ति की आजादी की बात करने वाले ही अब यूट्यूब पर गाने बैन करवा रहे हैं। ये वही लोग हैं जो सिद्धू मूसेवाला का गीत केंद्र सरकार की ओर से बैन करने पर इसे अभिव्यक्ति की आजादी की हत्या बता रहे थे। मजीठिया ने कहा कि अब तक सिद्धू मूसेवाला के हत्यारे अब तक पकड़े क्यों नहीं गए? सुरक्षा घटाने पर क्यों नहीं एक्शन लिया गया? गैंगस्टर दीपक टीनू फरार कैसे हो गया? मुख्यमंत्री को इन सब सवालों के जवाब देने होंगे।

Booking.com

SUBSCRIBE TO OUR NEWSLETTER