विदेश / आपकी ज़िंदगी बहुत कठिन बना देंगे: टीकाकरण न करवाने वालों को मलेशिया ने दी चेतावनी

Zoom News : Oct 20, 2021, 08:24 AM
क्वालालंपुर: मलेशिया (Malaysia) में लोगों के बीच वैक्सीन (Vaccine) लगवाने को लेकर हिचकिचाहट देखने को मिल रही है. ऐसे में मलेशियाई सरकार (Malaysia Government) बिना किसी वैध कारण के कोविड-19 वैक्सीन (Covid-19 Vaccine) लगवाने से इनकार करने वाले लोगों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने की योजना बना रही है. इसके जरिए सरकार लोगों के बीच वैक्सीन को लेकर जारी झिझक (Vaccine hesitancy) को दूर करना चाहती है. दुनियाभर में कोरोना से लड़ाई में वैक्सीन एक बड़ा हथियार बनकर उभरा है, मगर लोगों के बीच इसे लेकर हिचकिचाहट देखने को मिल रही है.

देश का स्वास्थ्य मंत्रालय ‘राष्ट्रीय परीक्षण रणनीति’ के तहत नया प्लान ला रही है, जिसमें बताया जाएगा कि सरकार उन लोगों के खिलाफ क्या कार्रवाई करेगी, जिन्होंने वैक्सीन की डोज नहीं लगवाई है. स्ट्रेट टाइम्स ने स्वास्थ्य मंत्री खैरी जमालुद्दीन के हवाले से कहा, ‘मुझे ये कहते हुए दुख है कि अगर आप अपनी इच्छा से वैक्सीन नहीं लगवाते हैं तो हम आपकी जिंदगी बहुत कठिन कर देंगे.’ आने वाले नए नियमों के बारे में ज्यादा जानकारी दिए बिना जमालुद्दीन ने कहा कि जो मलेशियाई वैक्सीन नहीं लगवाते हैं, उन्हें नियमित तौर पर होने वाली कोविड जांच का खर्च खुद उठाना पडे़गा.

कुछ क्षेत्रों के लिए अनिवार्य किया जाएगा वैक्सीनेशन

हालांकि, मलेशिया में कोविड-19 वैक्सीनेशन (Covid-19 Vaccination) अनिवार्य नहीं है, लेकिन बिना वैक्सीन लगवाए हुए लोगों को कई प्रमुख चीजों से हाथ धोना पड़ सकता है. जमालुद्दीन ने कहा कि नए नियमों के तहत बिना वैक्सीन लगवाए लोग मस्जिदों में नमाज नहीं पढ़ सकेंगे, बाहर खाना नहीं खा सकेंगे और शॉपिंग सेंटर नहीं जा सकेंगे. वहीं, कुछ क्षेत्रों के लिए वैक्सीन को अनिवार्य किया जा सकता है. उदाहरण के लिए टीचर्स, सरकारी कर्मचारियों और यहां तक कि निजी क्षेत्र के लोगों के लिए भी वैक्सीनेशन अनिवार्य किया जा सकता है. स्वास्थ्य मंत्री ने कहा, सरकार ने वैक्सीन के कारगर होने को लेकर पहले ही जानकारी दी हुई है.

70 फीसदी आबादी फुली वैक्सीनेटेड

दूसरी ओर, जिनके पास वैक्सीन नहीं लेने के वास्तविक मेडिकल रीजन हैं, वे स्वास्थ्य मंत्रालय के MySejahtera ऐप से छूट हासिल कर सकते हैं. सरकार जल्द ही उन लोगों के लिए भी आवेदन स्वीकार करना शुरू कर देगी, जिन्हें दूसरे देश की यात्रा करने के लिए एक विशेष बूस्टर शॉट की जरूरत पड़ती है. मलेशिया के आधिकारिक COVIDNOW आंकड़ों के अनुसार, लगभग 70.2 फीसदी वयस्क आबादी फुली वैक्सीनेटेड है, जबकि 77.3 फीसदी को अब तक कम से कम एक डोज दी जा चुकी है. महामारी की शुरुआत के बाद से देश में कुल 23,90,687 कोरोना मामले सामने आए और 27,921 मौतें दर्ज की गई हैं.

Booking.com

SUBSCRIBE TO OUR NEWSLETTER