Russia / पुतिन के घुटने टेकने के बाद खेरसॉन पर यूक्रेन का राज, दाखिल हुई सेना

Zoom News : Nov 12, 2022, 04:32 PM
रूस में व्लादिमीर पुतिन की सेना की ओर से खेरसॉन में घुटने टेकने के बाद अब एक बार फिर से इस शहर पर यूक्रेन का राज हो गया है। शनिवार को यूक्रेन की सेना खेरसॉन में प्रवेश कर गई है। यूक्रेन के खिलाफ युद्ध शुरू होने के कुछ ही दिनों बाद रूसी सेना ने प्रांतीय राजधानी खेरसॉन पर कब्जा कर लिया था। खेरसॉन से रूसी सैनिकों के जाने और यूक्रेनी सेना की वापसी के बाद शहर में लोगों को खुशियां मानते हुए भी देखा गया है।

यूक्रेन के राष्ट्रपति ने शुक्रवार को कहा कि युद्ध की शुरुआत में ही रूसी सेना द्वारा कब्जा जमा ली गयी बड़ी प्रांतीय राजधानी खेरसॉन में विशेष सैन्य इकाइयां दाखिल हो चुकी हैं। रणनीतिक रूप से महत्वपूर्ण इस शहर से अपने सैनिकों को वापस बुला लेने की प्रक्रिया पूरी होने के रूस के ऐलान के कुछ घंटों बाद एक वीडियो संबोधन में, राष्ट्रपति वोलोदिमिर जेलेंस्की ने कहा, 'अभी हमारे रक्षक शहर की बढ़ रहे हैं। थोड़ी देर में हम शहर प्रवेश करने वाले हैं। लेकिन विशेष इकाइयां पहले से ही शहर में हैं।'

खेरसॉन में पीछे हटना पुतिन के लिए बड़ा झटका

रूस ने इस बड़े शहर में अपनी मजबूत पकड़ छोड़ दी। जब 24 फरवरी को यूक्रेन पर रूस ने आक्रमण किया था, तो खेरसॉन सबसे पहले उसके कब्जे में आने वाले स्थानों में एक था। रूसी सैनिकों की वापसी ऐसे स्थानों पर यूक्रेनी सेना के आगे बढ़ने के लिए अनुकूल साबित हो सकती है। रूसी सेना की खेरसॉन से वापसी पुतिन के लिए एक बहुत बड़े झटके के तौर पर देखा जा रहा है। अब तक के युद्ध में कई मौकों पर पुतिन को अपना फैसला वापस लेना पड़ा है।

रूस ने मार्च में ही खेरसॉन पर जमा लिया था कब्जा

रूस के रक्षा मंत्रालय ने कहा कि उसके सभी सैनिक यूक्रेन के खेरसॉन क्षेत्र को अलग करने वाली नदी के पश्चिमी तट से सुबह 5 बजे तक पूरी तरह लौट गए। उन्होंने जिस क्षेत्र को छोड़ा, उसमें खेरसॉन शहर शामिल है जो एकमात्र प्रांतीय राजधानी थी जिसे रूस ने यूक्रेन पर अपने लगभग नौ महीने के आक्रमण के दौरान कब्जा कर लिया था।

Booking.com

SUBSCRIBE TO OUR NEWSLETTER