देश / अजित डोभाल के 'PoK प्लान' से पाकिस्तान में बौखलाहट, एक्शन में भारतीय सेना

Zee News : May 11, 2020, 10:50 AM
नई दिल्ली: पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी (Atal Bihari Vajpayee) ने अरसा पहले अखंड भारत का सपना देखा था। क्या वो सपना 2020 में पूरा होने जा रहा है? ये सवाल इसलिए क्योंकि पीओके को लेकर हिंदुस्तान के कई एक्शन प्लान सामने आ रहे हैं। पीओके पर राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल ने बहुत बड़ी बैठक की है। ऐसे में उम्मीद जताई जा रही है कि पाकिस्तान के कब्जे वाले हमारे कश्मीर के अच्छे दिन आने वाले हैं। 

आज कल पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान दहशत में हैं। भारत के आक्रामक रवैये से बाजवा के फौज की हालत पतली हो गई है। बात इतने तक ही सीमित होती तो इमरान के माथे पर पसीने नहीं आते। लेकिन इमरान इसलिए भी दहशत में हैं, क्योंकि उन्हें हिंदुस्तान का प्लान पीओके अब धीरे-धीरे समझ में आने लगा है। उन्हें मालूम चल चुका है कि भारत पीओके को लेकर कुछ बड़ा करने वाला है।

आपको बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृहमंत्री अमित शाह, राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल और सीडीएस जनरल बिपिन रावत ने मिलकर पाकिस्तान से पीओके आजाद कराने का सुपरहिट प्लान तैयार कर लिया है।

हिंदुस्तान के ये चार मजबूत पिलर पाकिस्तान से पीओके को आजाद कराने का प्लान एक साथ मिलकर बना रहे हैं। जिसमें राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल की भूमिका सबसे अहम है। ये बात हम इसलिए कह सकते हैं क्योंकि ज़ी न्यूज़ के पास ये एक्सक्लूसिव जानकारी है कि शनिवार की रात NSA अजित डोभाल ने एक बड़ी बैठक की है। डोभाल की अध्यक्षता में हुई इस बैठक में सेनाध्यक्ष जनरल मनोज मुकुंद नरवणे, रॉ चीफ, आईबी चीफ, नॉर्दर्न आर्मी कमांड के लेफ्टिनेंट जनरल वाईके जोशी, 15 कोर के जीओसी लेफ्टिनेंट जनरल राजू, 16 कोर कमांड के लेफ्टिनेंट जनरल हर्ष गुप्ता के साथ साथ जम्मू-कश्मीर के डीजीपी दिलबाग सिंह शामिल हुए। 

5 घंटे तक चली इस मैराथन बैठक में जम्मू-कश्मीर के साथ-साथ LoC पर हालात की समीक्षा की गई। NSA डोभाल को हिज्बुल कमांडर रियाज नायकू के खात्मे के बाद कश्मीर में आतंकियों के खिलाफ चल रहे ऑपरेशंस की एक एक जानकारी दी गई। डोभाल को घाटी में मौजूद आतंकियों की लिस्ट सौंपी गई। अधिकारियों ने डोवल को ये जानकारी दी कि जैश ए मोहम्मद के 25-30 आतंकी कश्मीर में मौजूद सुरक्षाबलों पर हमले की साज़िश को अंजाम दे सकते हैं। 

इस जानकारी को साझा करने के बाद सभी अधिकारियों ने राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल से पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर पर भी बात की। जानकारी के मुताबकि खुफिया एजेंसियों ने उन्हें सीमा पार से मिले इनपुट के आधार पर बताया कि पाकिस्तान ने PoK से लगती लाइन आफ कंट्रोल (LoC) के पास दुधनियाल, शारदा और अठकाम में आतंकियों के लॉन्च पैड को एक्टिव कर दिया है और कश्मीर में बड़े पैमाने पर आतंकी घुसपैठ की साजिशें रच रहा है।

अब आप सोचकर देखिए, जब डोभाल की टेबल पर पीओके की टेरर कुंडली रखी गई होगी, टेरर कैंप के बारे में बताया गया होगा तो उनका रिएक्शन क्या रहा होगा। जाहिर है, इसके बाद पीओके में आतंकियों के लॉन्च पैड को कैसे तबाह करना है, इस पर भी जरूर बात हुई होगी।

क्योंकि प्रधानमंत्री मोदी पहले ही साफ कर चुके हैं कि ये नया हिंदुस्तान अब आतंकियों की घुसपैठ का इंतजार नहीं करेगा। जहां से भी घुसपैठ करने की सूचना मिलेगी, वहां घुसकर आतंकियों का सफाया करेगा। पीएम मोदी ने 22 अप्रैल 2019 को कहा था कि आज हर आतंकी को पता है अगर देश के किसी हिस्से में बम धमाका किया तो ये मोदी है ये उन्हें पाताल में से भी खोजकर सजा देगा। और उनको, उनके आकाओं को भी खत्म करके रहेगा। 


Booking.com

SUBSCRIBE TO OUR NEWSLETTER