Rajasthan Assembly Elections / राजस्थान में 41 सीटों पर 7 सांसदों के जरिए सरकार तलाशने में जुटी BJP

Zoom News : Oct 10, 2023, 07:04 AM
Rajasthan Assembly Elections: राजस्थान में खोई हुई जमीन तलाशने में जुटी भारतीय जनता पार्टी ने 41 उम्मीदवारों की पहली लिस्ट जारी कर दी है. राजस्थान में बीजेपी बड़ी जीत हासिल कर लोकसभा से पहले विपक्ष को अपनी ताकत दिखाना चाहती है. यही कारण है कि मध्य प्रदेश की तर्ज पर राजस्थान में भी बीजेपी ने अपने सांसदों को चुनाव मैदान में उतारा है. पहली लिस्ट में वसुंधरा राजे का नाम नहीं है. वहीं सचिन पायलट के सामने विजय बैंसला और लक्ष्मणगढ़ से पीसीसी चीफ गोविन्द सिंह डोटासरा के सामने सुभाष मेहरिया को उतारा गया है.

राजस्थान विधानसभा चुनाव में बीजेपी ने जिन 41 सीटो पर प्रत्याशियों की पहली लिस्ट जारी की है, उसमें ज्यादातर हारी या कमजोर सीटें हैं. बीजेपी ने पहली लिस्ट में ही 6 लोकसभा और 1 राज्यसभा सांसद समेत 7 सांसदों को मैदान में उतार दिया है. भाजपा ने लोकसभा सांसद दिया कुमारी को जयपुर की विद्याधर नगर, राज्यवर्धन सिंह राठौड़ को जयपुर के झोटवाड़ा, किरोड़ी लाल मीणा को सवाई माधोपुर, बाबा बालक नाथ को तिजारा, नरेंद्र कीचड़ को मंडावा, भगीरथ चौधरी को किशनगढ़ और देवजी पटेल को सांचोर से उतारा है.

पार्टी सूत्रों के मुताबिक बीजेपी के बड़े नामों को चुनावी मैदान में उतार कर बीजेपी आसपास की सीटों को भी साधने के प्रयास कर रही है. वहीं 41 कैंडिडेट्स की लिस्ट में 4 महिला प्रत्याशी और 17 एससी-एसटी कैंडिडेट्स को टिकट दिया गया है.

कई बड़े नामों की टिकट कटे

इस लिस्ट में कई बड़े चौंकाने वाले बड़े नामों के टिकट काट दिए गए हैं. झोटवाड़ा सीट से पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे के करीबी राजपाल सिंह शेखावत की जगह बीजेपी ने राज्यवर्धन सिंह राठौर को टिकट दिया है. वहीं विद्याधर नगर से पूर्व उपराष्ट्रपति भैरोंसिंह शेखावत के जमाई नरपत सिंह राजवी का टिकट काट कर सासंद दिया कुमारी को टिकट दे दिया है. हालांकि नरपत सिंह राजवी उम्र का हवाला देकर अपने बेटे अभिमन्यु राजवी के लिए टिकट मांग रहे थे.

पायलट के सामने विजय बैंसला

लिस्ट में जाति समीकरण को ध्यान में रखते हुए गुर्जर वोट साधने के लिए टोंक के देवली से कर्नल किरोड़ी बैंसला के पुत्र विजय बैंसला को टिकट दिया गया है. आपको बता दे कि टोंक से सचिन पायलट चुनाव लड़ते हैं इसलिए विजय बैंसला को टिकट दिया गया है. कांग्रेस के प्रदेशाध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा के सामने सुभाष मेहरिया को उतारा गया है. सीकर से पूर्व सांसद सुभाष मेहरिया जो पहले बीजेपी को छोड़कर कांग्रेस में चले गए थे अब दोबारा बीजेपी में वापसी की है, उन्हें कोंग्रेस के प्रदेशाध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा के सामने उतारा गया है. बिश्नोई समाज के बड़े नेता को कांग्रेस सुखराम विश्नोई के खिलाफ बीजेपी ने अपने 3 बार के सांसद देवजी पटेल को उतारा है.

SUBSCRIBE TO OUR NEWSLETTER