मनोरंजन / मोदी भक्त कहलाना सम्मान की बात है, पीएम मोदी साहब का मैं बहुत बड़ा फैन हूं: मिथुन

Zoom News : Apr 01, 2021, 07:43 PM
मनोरंजन: पश्चिम बंगाल में आज दूसरे चरण के मतदान जारी हैं। इसी बीच एक्टर से राजनेता बने मिथुन चक्रवर्ती ने एक इंटरव्यू के दौरान खुद को ‘मोदी भक्त’ कहे जाने पर अपनी प्रतिक्रिया दी। उन्होंने कहा कि अब बंगाल पहले जैसा नहीं रहा। यहां पर अब एक अंदरूनी टेंशन और डर का अजीबोगरीब माहौल बन गया है।

बता दें, मिथुन चक्रवर्ती ने यह बातें बीबीसी को दिए इंटरव्यू में कहीं। बीबीसी के पत्रकार रजनीश कुमार को दिए इंटरव्यू में मिथुन चक्रवर्ती ने खुद को पीएम मोदी का फॉलोवर भी बताया। इस दौरान एक्टर ने कहा कि मैं मोदी का फैन हूं। जिस पर पत्रकार ने सवाल करते हुए कहा, “मोदी जी के जो क्रिटिक्स हैं, वह उनके फैन को ‘मोदी भक्त’ कहकर उनकी आलोचना करते हैं। तो क्या आप भी खुद को मोदी भक्त कहते हैं?”

इस पर मिथुन चक्रवर्ती ने जवाब देते हुए कहा, “बोल दीजिए। यह बहुत सम्मान की बात है। वह दुनिया के सबसे बड़े लोकतंत्र के नेता हैं। मैं उनके सामने एक छोटा-सा आम इंसान हूं।” वहीं, जब पत्रकार मिथुन चक्रवर्ती से कहते हैं कि अगर कहीं गलत होगा, तो आप सवाल पूछेंगे की नहीं?

जिस पर मिथुन चक्रवर्ती कहते हैं, “अगर मुझे आप जानते हैं और पढ़ चुके हैं। मुझे मालूम है, मैं सवाल कर ही नहीं पाऊंगा। क्योंकि जिन सवालों को साथ लेकर मैं आ रहा हूं, उन्हीं का संदेश लोगों में बांट रहा हूं। वही संदेश जो उन्होंने मुझे दिया है, मैं लोगों तक पहुंचा रहा हूं। मैं यहां कोई पॉलिटिकल करियर नहीं बनाने आया हूं।”

पत्रकार के यह पूछने पर कि आपकी मुलाकात फरवरी में मोहन भागवत से हुई, जो आरएसएस प्रमुख हैं। आपने उस मुलाकात के बाद कहा कि यह आध्यात्मिक संबंध है, जो पिछले लंबे समय से है। यह कोई पॉलिटिकल नहीं है। जिस पर मिथुन चक्रवर्ती कहते हैं कि यह मैं अभी भी बोल रहा हूं।

हालांकि, जब पत्रकार मिथुन चक्रवर्ती से यह कहते हैं कि लेकिन आपने तो इसे पॉलिटिकल बना दिया। इस पर एक्टर कहते हैं, “आपको कैसे मालूम उन्होंने बनाया है। मैं टीवी के सामने बोल रहा हूं। आरएसएस के देश के लिए काम करने के साथ मैं हूं। कौन जानता है आरएसएस को। उनका सेक्रिफाइज देखिये आप पहले देश के लिए। 25 जो मुख्य प्रचारक हैं, उनकी कोई फैमिली नहीं है।”

बता दें, एक्टर मिथुन चक्रवर्ती ने पश्चिम बंगाल के ब्रिगेड परेड मैदान में एक रैली के बीच बीजेपी का दामन 7 मार्च को थामा था। इस दौरान बीजेपी के कई बड़े नेता रैली में शामिल हुए थे।

SUBSCRIBE TO OUR NEWSLETTER