दुनिया / पुतिन करा रहे UK की जासूसी, रिपोर्ट में दावा-कई सीक्रेट एजेंट तैनात

Zoom News : Nov 14, 2022, 03:46 PM
Russia : यूक्रेन पर चढ़ाई करने के बाद से रूस और यूरोपीय देशों के बीच तनातनी लगातार बढ़ रही है। इस बीच एक चौंकाने वाला दावा सामने आया है। इसके मुताबिक रूसी राष्ट्रपति व्लादीमीर पुतिन ने ब्रिटेन में करीब 1000 सीक्रेट एजेंट्स तैनात कर रखे हैं। यह सभी जासूस यहां पर अपनी पहचान छुपाकर मामूली नौकरियां कर रहे हैं। एक इंटेलीजेंस रिपोर्ट में यह बात सामने आई है। यह भी बताया गया है कि यह सभी रूसी जासूसी एजेंसी एसवीआर को रिपोर्ट करते हैं। 

हर स्तर पर जुटा रहे सूचना

बताया गया है कि यह सभी रूसी जासूस ब्रिटेन में छोटी-मोटी नौकरियां कर रहे हैं। कोई मिनिकैब चला रहा है तो कोई यूनिवर्सिटी में छोटे लेवल की जॉब कर रहा है। द मिरर की रिपोर्ट के मुताबिक रूस ने एक वृहद और जटिल नेटवर्क तैयार किया है। यह जासूस ब्रिटेन में हर स्तर की सूचना जुटा रहे हैं। रिपोर्ट में यह भी बताया गया है कि यह छात्र, ट्रेड यूनियन, प्रदर्शनकारी समहूों, उबेर ड्राइवरों के साथ राजनेताओं, सिविल सर्विसेज और पुलिस के बीच भी मौजूद हैं। 

कई संवेदशील जगह कर चुके हैं जासूसी

इंटेलीजेंस रिपोर्ट में यह भी बताया गया है कि हाल के वर्षों में रूस की लंदन स्थित एंबेसी में काम करने वाले जासूसों की संख्या में गिरावट आई है। लेकिन ब्रिटेन में सीक्रेट रूसी एजेंट्स की संख्या बढ़ी है। पुतिन के एजेंट न्यूक्लियर पॉवर स्टेशंस, आर्मी, आरएएफ और रॉयल नेवी बेसेज पर भी जासूसी कर चुके हैं। इसमें स्कॉटलैंड का फासलेन भी शामिल है, जहां ब्रिटेन का न्यूक्लियर सबस्टेशन है। रिपोर्ट के मुताबिक ऐसे जासूसों की संख्या आसानी से 1000 के ऊपर हो सकती है। यह सभी लोगों को समझौतों पर मजबूर करते हैं, संगठनों में घुसपैठ करते हैं और जासूसों की नियुक्ति करते हैं। खतरा काफी ज्यादा है।

नाजुक वक्त पर आई है रिपोर्ट

यह रिपोर्ट ऐसे वक्त में आई जब रूस यूक्रेन के प्रमुख शहर खेरसॉन से अपने सैनिकों को वापस बुला रही है। वहीं यूक्रेनी राष्ट्रपति जेलेंस्की ने आरोप लगाया है कि रूसी सैनिक युद्ध अपराधों को अंजाम दे रहे हैं। यह लोग खेरसॉन में लोगों की जान ले रहे हैं। जेलेंस्की ने कहा कि रूस के सैनिकों द्वारा 400 से ज्यादा वॉर क्राइम्स को दर्ज किया जा चुका है। आम लोगों और सर्विस करने वालों की लाशें मिल रही हैं। 

Booking.com

SUBSCRIBE TO OUR NEWSLETTER