स्पोर्ट्स / स्टार बैडमिंटन खिलाडी पीवी सिंधु को 'पद्म भूषण' के लिए किया गया नॉमिनेट

Live Hindustan : Sep 12, 2019, 04:00 PM

खेल मंत्रालय ने स्टार महिला बॉक्सर एमसी मैरीकॉम के नाम की सिफारिश देश के दूसरे सर्वोच्च नागरिक सम्मान 'पद्म विभूषण' के लिए की है। भारत के इतिहास में यह पहली बार हुआ है जब एक महिला खिलाड़ी के नाम की सिफारिश देश के दूसरे सर्वोच्च नागरिक सम्मान पद्म विभूषण के लिए किया गया है। छह बार की विश्व चैंपियन बॉक्सर एमसी मैरीकॉम को साल 2013 में पद्म भूषण और 2006 में पद्मश्री से सम्मानित किया जा चुका है। इकेंद्रीय खेल मंत्रालय ने इस बार नौ एथलीटों के नाम पद्म पुरस्कारों के लिए भेजे हैं और ये सभी महिलाए हैं।

इस बार पद्म पुरस्कारों के लिए भेजे गए सभी 9 नाम वुमन एथलीट्स के

महिला बैडमिंटन खिलाड़ी पीवी सिंधु को 'पद्म भूषण' के लिए नॉमिनेट किया गया है। इससे पहले साल 2017 में भी 'पद्म भूषण' के लिए सिंधु के नाम की सिफारिश की गई थी, लेकिन उन्हें अंतिम सूची में जगह नहीं मिली थी। साल 2015 में पीवी सिंधु को 'पद्मश्री' से सम्मानित किया जा चुका है। मैरीकॉम और सिंधु के अलावा रेसलर विनेश फोगाट, टेबल टेनिस प्लेयर मनिका बत्रा, क्रिकेटर हरमनप्रीत कौर, हॉकी प्लेयर रानी रामपाल, पूर्व निशानेबाज सुमा शिरूर और पर्वतारोही जुड़वा बहनें ताशी व नुंगशी मलिक के नामों की सिफारिश 'पद्मश्री' सम्मान के लिए की गई है। 

भारत में आज तक किसी महिला खिलाड़ी को नहीं मिला है 'पद्म विभूषण'

खेल मंत्रालय ने पद्म पुरस्कारों के लिए तय किए गए नामों को पद्म पुरस्कार समिति के पास भेज दिया है। इन नागरिक पुरस्कारों के लिए चयनित नामों की घोषणा अगले साल गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या पर की जाएगी। देश का दूसरा सर्वोच्च नागरिक सम्मान 'पद्म विभूषण' अब तक तीन पुरुष खिलाड़ियों को मिला है। इनमें शतरंज खिलाड़ी विश्वनाथन आनंद, क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर और पर्वतारोही सर एडमंड हिलेरी शामिल हैं। विश्वनाथन आनंद को 2007, सचिन तेंदुलकर को 2008 और एडमंड हिलेरी को मरणोपरांत 2008 में 'पद्म विभूषण' से  सम्मानित किया गया था। सचिन तेंदुलकर को साल 2014 में देश के सर्वोच्च नागरिक सम्मान 'भारत रत्न' से भी सम्मानित किया जा चुका है।