यूपी बोर्ड रिजल्ट / लड़कियों ने मारी बाजी, 10वीं में 79.88 और 12वीं में 81.96 फीसदी छात्राएं सफल

AajTak : Jun 27, 2020, 02:12 PM
UPMSP UP Board Result 2020: आखिरकार उत्तर प्रदेश बोर्ड ने कक्षा 10वीं और 12वीं के रिजल्ट का ऐलान कर दिया है. इस परीक्षा में इस साल 56 लाख से अधिक छात्र शामिल हुए थे. यूपी के उप-मुख्यमंत्री दिनेश शर्मा ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कक्षा 10वीं-12वीं के रिजल्ट की घोषणा की थी.

बता दें, इस साल 10वीं में 83.31% और 12वीं में 74.63% छात्र पास हुए हैं. वहीं पिछले साल पिछले साल 70.2 प्रतिशत छात्रों ने कक्षा 12वीं और 80.7 प्रतिशत कक्षा 10 वीं की यूपी बोर्ड की परीक्षा छात्रों ने पास की थी. उप-मुख्यमंत्री दिनेश शर्मा ने कहा, इस साल के नतीजे पिछले साल से काफी बेहतर हैं.

इस साल कक्षा 12वीं में अनुराग मलिक ( 97%) और कक्षा 10वीं में रिया जैन (96.67%) ने पहला स्थान हासिल किया है. वहीं यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने छात्रों को शुभकामनाएं देते हुए ट्वीटर पर अपना एक वीडियो अपलोड किया है.

इन आधिकारिक वेबसाइट्स पर चेक करें रिजल्ट

  • upmsp.edu.in
  • upresults.nic.in
  • upmspresults.up.nic.in
टोल फ्री नंबर पर कॉल करके जान सकते हैं रिजल्ट

छात्र दो टोल-फ्री हेल्पलाइन नंबरों का उपयोग करके भी यूपी बोर्ड परिणाम 2020 के रिजल्ट का पता लगा सकते हैं. हेल्पलाइन नंबर-- 1800-180-5310 और 1800-180-5312 हैं. छात्र अपने प्रश्नों का उत्तर प्राप्त कर सकते हैं और तनाव को दूर करने में भी उनकी मदद करेंगे. इन हेल्पलाइन नंबरों की टाइमिंग सुबह 8 से रात 8 बजे तक है.

इस साल कक्षा 10वीं की परीक्षा में शामिल हुए थे छात्र

कुल 30,24,632 छात्र हैं जो यूपी बोर्ड 10वीं की परीक्षा में शामिल हुए थे. 10वीं की परीक्षा 18 फरवरी से 3 मार्च 2020 तक आयोजित की गई थीं. ये परीक्षा 12 दिनों में समाप्त हो गई थी.

इस साल कक्षा 12वीं की परीक्षा में शामिल हुए थे छात्र

कुल 25,86,440 छात्र हैं जो यूपी बोर्ड 12वीं की परीक्षा में शामिल हुए थे. 12वीं की परीक्षाएं 18 फरवरी से 6 मार्च 2020 के बीच आयोजित की गई थी.

कब मिलेगी मार्कशीट

रिजल्ट जारी होने के बाद 3 दिनों के भीतर छात्रों को मार्कशीट मिलेगी. मार्कशीट को क्षेत्रीय कार्यालयों, फिर जिला प्रमुखों और विद्यालयों को भेजा जाएगा जो आगे सुनिश्चित करेंगे कि वे छात्रों तक पहुंचाई जाएं.

कोरोना संकट में पूरी हुई थी परीक्षा

जहां एक ओर कोरोना संकट के कारण सीबीएसई और आईसीएसई जैसे राष्ट्रीय बोर्ड अपनी परीक्षाओं को पूरा करने में असमर्थ रहे, वहीं यूपी बोर्ड ने न केवल परीक्षाओं को समय पर पूरा किया बल्कि लॉकडाउन के दौरान रिकॉर्ड समय में 1.2 लाख शिक्षकों द्वारा 56 लाख छात्रों की 3.5 करोड़ आंसरशीट का मूल्यांकन भी किया था.

देरी से आए रिजल्ट

यूपी बोर्ड के रिजल्ट प्रयागराज के बजाय लखनऊ से घोषित किए गए हैं. रिजल्ट पहले अप्रैल के महीने में घोषित किए जाने वाले थे, लेकिन कोरोना वायरस महामारी कारण इसमें देरी हुई है.

पास होने के लिए नंबर

यूपी बोर्ड परिणाम के लिए पासिंग क्राइटेरिया नहीं बदला गया है, इस साल भी, ऐसे छात्र जो कम से कम 35 प्रतिशत नंबर हासिल करते हैं, उन्हें पास माना जाएगा.

माता पिता न डालें दवाब

जीवन है, हार जीत चलती रहती है. अभिभावकों से अनुरोध है यदि रिजल्ट उम्मीद के मुताबिक नहीं है तो वह अपने बच्चे पर किसी भी प्रकार का दवाब न डालें और न ही उनपर गुस्सा करें.

सुधार प्रक्रिया के लिए कर सकेंगे आवेदन

बोर्ड ने प्रमाणपत्रों में एक ऑनलाइन सुधार प्रक्रिया भी शुरू की, जिसमें 2017 के बाद से परीक्षाओं में उपस्थित हुए छात्र जारी किए गए प्रमाणपत्रों में बदलाव के लिए आवेदन कर सकते हैं। छात्र वेबसाइट- upmsp.edu.in, या राज्य में सेवा केन्द्रों के माध्यम से आवेदन कर सकते हैं। सुधार प्रक्रिया पूरी तरह से नि: शुल्क है. हालांकि, डुप्लीकेट मार्कशीट के मामले में किसी को 100 रुपये का भुगतान करना होगा.

पिछले साल कैसा था रिजल्ट

पिछले साल 70.2 प्रतिशत छात्रों ने कक्षा 12वीं और 80.7 प्रतिशत कक्षा 10 वींकी यूपी बोर्ड की परीक्षा छात्रों ने पास की थी.

UP Board 10th, 12th results: ऐसे देखें रिजल्ट

  • स्टेप 1- सबसे पहले आधिकारिक वेबसाइट upmsp.edu.in, upresults.nic.in. पर जाएं.
  • स्टेप 2- ‘result link’ पर क्लिक करें.
  • स्टेप 3- मांगी गई जानकारी भरें.
  • स्टेप 4- सबमिट करें.
  • स्टेप 5- रिजल्ट आपकी स्क्रीन पर होगा.
  • स्टेप 6- भविष्य के लिए प्रिंटआउट लेना न भूलें.
Booking.com

SUBSCRIBE TO OUR NEWSLETTER