राजस्थान / राजस्थान की व्यस्त सड़क पर दिनदहाड़े कार रोककर 2 लोगों ने डॉक्टर दंपति को मारी गोली

Zoom News : May 29, 2021, 06:51 AM
भरतपुर: राजस्थान की राजधानी जयपुर से मात्र साढ़े तीन घंटे की दूरी पर स्थित भरतपुर में दिन दहाड़े मर्डर का मामला सामने आया है। दो बदमाशो ने कार रोककर डॉक्टर दंपत्ति डॉ सुदीप गुप्ता और पत्नी डॉ सीमा को गोली मार दी। मर्डर के इस घटना से भरतपुर के लोग दहशत में आ गए हैं। 24 घंटे में यह दूसरी बड़ी घटना है। 

गुरुवार देर रात इंटों व सरिए से हमला करने का मामला अभी थमा भी नहीं था कि बदमाशों ने एक और घटना को अंजाम दे दिया। बता दें कि बीजेपी सांसद रंजीता कोली पर कुछ बदमाशों ने हमला किया था, जब वे आधी रात को अपने संसदीय क्षेत्र के वैर इलाके में सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र का निरीक्षण करने जा रही थीं। 

डॉ सुदीप गुप्ता और पत्नी डॉ सीमा पर हमले के यह घटना एक सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई। सीसीटीवी कैमरे में दिख रहा है की दो हमलावरों ने अपनी मोटरसाइकल डॉक्टर दम्पति की कार के आगे लगा दी। डॉ गुप्ता स्वयं गाड़ी चला रहे थे। 

हमलावरों ने ड्राइवर साइड से डॉक्टर दम्पति पर गोली चलाई जिससे दोनों गंभीर रूप से घायल हो गए। जिसके बाद उन्हें अस्पताल ले जाया गया लेकिन डॉक्टर ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। घटना के बारे में जानकारी देते हुए, पुलिस के अधिकारियों ने बताया कि दंपत्ति अस्पताल से बस स्टैंड की तरफ जा रहे थे। दो हमलावरों ने पहले डॉक्टर गुप्ता को गोली मारी। घटना स्थल जांच की जा रही है।

यह पूरी घटना सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई है जिसके आधार पर पुलिस जांच की जा रही है। जानकारी के अनुसार 2 साल पहले  श्री राम अस्पताल भरतपुर की रिसेप्शनिस्ट दीपा और उसके 8 साल के बच्चे को जलाने के मामले में डॉक्टर सुदीप गुप्ता और उनकी पत्नी सीमा गुप्ता को जेल हुई थी। जानकारी के अनुसार कई दिनों से डॉ. दंपति को जान से मारने की धमकी मिल रही थी।

घटना को लेकर आईजी प्रसन्न कुमार खमेसरा ने कहा कि चिकित्सक दंपति के मर्डर के आरोपियों को जल्द गिरफ्तार कर लिया जाएगा। आरोपियों की पहचान कर ली गई है। आईजी ने कहा कि 2 वर्ष पूर्व भरतपुर के सूर्या सिटी में एक मकान में चिकित्सक दंपति द्वारा एक महिला और उसके बच्चे को जलाकर मार दिया गया था। 2 साल पहले जो घटना हुई उस घटना से जुड़ा मामला है। जलाकर मारी गई महिला के भाई ने इस घटना को अंजाम दिया है।

Booking.com

SUBSCRIBE TO OUR NEWSLETTER