REET exam / 3 लाख अभ्यर्थी नहीं दे पाएंगे रीट परीक्षा, बढ़ी मुश्किलें...जानिए

Zoom News : Jan 08, 2021, 02:05 AM

सीकर. दो साल से शिक्षक भर्ती की तैयारी में जुटे प्रदेश के तीन लाख से अधिक बेरोजगारों की नौकरी की उम्मीदों को बड़ा झटका लगा है। रीट 2021 में स्नातक में 50 फीसदी से कम अंक वाले अभ्यर्थी शामिल नहीं हो सकेंगे। इस नियम ने बेरोजगारों की मुसीबत बढ़ा दी है। हालांकि जिन अभ्यर्थियों के स्नातक में 50 फीसदी अंक नहीं है लेकिन स्नातकोत्तर में 50 फीसदी अंक है। वहीं रीट 2021 के लिए आवेदन कर सकेगी। चार वर्ष पहले हुई रीट भर्ती में यह पात्रता जोड़ी गई थी। लेकिन बाद में अभ्यर्थियों ने न्यायालय में याचिका दायर की थी। इस पर अभ्यर्थियों को छूट भी मिली थी। इधर, बेरोजगारों का कहना है कि बीएड के पाठ्यक्रम में जब स्नातक के बिना अंक देखकर प्रवेश दिया जा रहा है तो नौकरी में इस तरह का भेदभाव क्यों।


हरी झंडी मिलते ही कोचिंग में पंजीयन शुरू
कोचिंग संस्थाओं को 18 जनवरी से छूट मिलने के आदेश के बाद प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कराने वाले संस्थाओं ने तैयारी तेज कर दी है। कई कोचिंग संस्थाओं ने रीट के लिए अभी से पंजीयन शुरू कर दिया है। कई कोचिंग संस्थाओं की ओर से ऑफलाइन के साथ ऑनलाइन कक्षाएं भी जारी रहेगी।

आठ फरवरी तक कर सकेंगे आवेदन
रीट 2021 के लिए आवेदन प्रक्रिया 11 जनवरी से शुरू होगी। आवेदन फार्म आठ फरवरी तक भरे जा सकेंगे। बैंक में चालान चार फरवरी तक जमा होगा। इस साल रीट के एक प्रश्न पत्र में शामिल होने के लिए 550 और दोनों प्रश्न पत्रों में शामिल होने के लिए 750 रुपए देने होंगे।


विस्तृत विज्ञप्ति का फिलहाल इंतजार

बीएड व बीएसटीसी अभ्यर्थियों को फिलहाल रीट भर्ती की विस्तृत विज्ञप्ति का इंतजार है। अभ्यर्थियों का कहना है कि इसी विज्ञप्ति के आधार पर योग्यता व पाठ्यक्रम सहित अन्य मुद्दे पूरी तरह स्पष्ट हो सकेंगे। पहले रीट की नोडल एजेंसी राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड की ओर से पूरी विज्ञप्ति जारी करने की योजना थी। लेकिन प्रदेश में आचार संहिता लगने की वजह से संक्षिप्त विज्ञप्ति जारी की गई।

Booking.com

SUBSCRIBE TO OUR NEWSLETTER