Crime/Rajasthan / जयपुर में एक साथ डबल मर्डर की वारदात का मामला

Zoom News : Jan 09, 2021, 05:24 PM
जयपुर के कोटपूतली थाना इलाके में आज सुबह हुए डबल मर्डर के मामले में मृतका के बेटे पंकज की भूमिका लिप्त नजर आ रही हैं। पुलिस भी प्रथम दृश्या इसे मर्डर की बात से इनकार नहीं कर रही हैं। लेकिन वास्तविकता का खुलासा तो बेटे के पकड़े जाने के बाद ही होगा। बताया जा रहा हैं कि बेटे ने अपनी मां और उसके प्रेमी को आपत्तिजनक स्थिति में देख लिया था, जिससे वह अपना आपा खो बैठा और दोनों को मौके पर ही गोली से शूट कर दिया। सूत्रों के मुताबिक मृतका की बड़ी बेटी जो अपने मामा के यहां रहती हैं और दिल्ली में पढ़ाई कर रही हैं उसने पुलिस में जो बयान दिए हैं उसमें ये बात सामने आ रही हैं। क्योंकि मृतका के बेटे ने आज सुबह करीब 6 बजे अपनी बहन को ही फोन करके मर्डर की सूचना दी थी।


आपको बता दें कि आज सुबह कोटपूतली के शालू रावत की ढाणी के पास शिव कॉलोनी के एक मकान में एक पुरूष और महिला की लाश मिली थी। घटना के बाद मौके पर पहुंची जयपुर पुलिस ने मृतक महिला पहचान सुमन चौधरी (38) और पुरूष की पहचान डॉ. मातादीन शेखावत (41) के रूप में की हैं। स्थानीय लोगों ने बताया कि मृतका सुमन चौधरी की शादी कई साल पहले हरियाणा में हुई थी, जिसके कुछ सालों बाद से ये ससुराल वालों से अलग ही रह रही हैं।


किराये पर रहता था प्रेमी डॉक्टर:

जानकारी के मुताबिक मृतका सुमन चौधरी के घर के ऊपर वाले फ्लोर पर ही डॉ. मतादीन शेखावत किराये पर रहता था। उसकी कोटपूतली में ही रामसिंहपुरा गांव में एक दवाखाना खोल रखा था। इसके अलावा जिस घर में वह किराये पर रहता था वहां भी मरीजों को देखता था, जिसके लिए उसने मौके पर बोर्ड और बैनर भी लगा रखा था।


दोनों के बीच प्रेमप्रसंग की लड़के को थी जानकारी:

पुलिस सूत्रों के मुताबिक मृतका के बेटे पंकज को कुछ समय से मातादीन और अपनी मां सुमन के प्रेमप्रसंग की जानकारी थी। इसको लेकर वह पहले भी आपत्ति कर चुका हैं। मां के अवैध संबंधों के बारे में वह एक-दो बार अपनी बड़ी बहने को भी बता चुका था। लेकिन बावजूद उसके मां और प्रेमी डॉक्टर के बीच प्रेमप्रसंग चलता रहा। इधर डॉ. स्वयं भी शादीशुदा था और उसकी पत्नी के अलावा दो बच्चे भी हैं, जो बानसून में उसके गांव ही रहते थे।

Booking.com

SUBSCRIBE TO OUR NEWSLETTER