देश / महाराष्ट्र में कांग्रेस का सीएम बनाने को लेकर ठाकरे-पवार से बात करें पटोले: अठावले

Zoom News : Jun 15, 2021, 06:49 AM
नई दिल्ली: महाराष्ट्र में महाअघाड़ी सरकार के भीतर सबकुछ ठीक नजर नहीं आ रहा है। प्रदेश के कांग्रेस अध्यक्ष नाना पटोल ने अगला विधानसभा चुनाव अकेले लड़ने का इशारा किया है। पटोले के बयान के बाद केंद्रीय मंत्री रामदास अठावले ने कहा कि कांग्रेस एनसीपी और शिवसेना से कमजोर है, लिहाजा उसे अकेले चुनाव लड़ने से बचना चाहिए। यही नहीं अठावले न कहा कि महाअघाड़ी की सरकार कांग्रेस के 42 विधायकों की मदद से बनी है। नाना पटोल को उद्धव ठाकरे और शरद पवार से 2.5-2.5 साल के मुख्यमंत्री पद के लिए सीधे बात करनी चाहिए। अगर ऐसा नहीं होता है तो कांग्रेस को गठबंधन से खुद को अलग कर लेना चाहिए।

अठावले ने कहा कि शिवसेना और एनसीपी की तुलना में कांग्रेस की महाराष्ट्र में ताकत कम है, लिहाजा उन्हें अकेले चुनाव नहीं लड़ना चाहिए, यह उनके लिए फायदेमंद नहीं होगा। अठावले का यह बयान ऐसे समय में आया है जब महा विकास अघाड़ी सरकार में असंतोष नजर आ रहा है, खासकर जिस तरह से कांग्रेस ने अगला चुनाव अकेले लड़ने की बात कही है। हाल ही में जिस तरह से प्रशांत किशोर ने शरद पवार से मुलाकात की थी उसपर अठावले का कहना है कि शरद पवार के नेतृत्व में सभी विपक्षी दल एक साथ नहीं आ सकते हैं। कुछ कहेंगे कि उन्हें सोनिया गांधी और राहुल गांधी का नेतृत्व पसंद है। 2024 में नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में सरकार बनेगी।

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि शिवसेना को भाजपा का समर्थन लेकर प्रदेश में सरकार चलानी चाहिए जहां दोनों का मुख्यमंत्री 2.5-2.5 साल का हो सकता है, यह उनके लिए सबसे अच्छा विकल्प है। उद्धव ठाकरे जी ने हाल ही में पीएम मोदी से मुलाकात की है। अगर कांग्रेस गठबंधन से अलग होती है तो महा विकास अघाड़ी की सरकार अल्पमत में आ जाएगी, लिहाजा भाजपा ही एकमात्र विकल्प बचेगी। या तो शिवसेना या फिर एनसीपी भाजपा का समर्थन कर सकती है। महाराष्ट्र के लिए उद्धव ठाकरे जी को भाजपा के साथ गठबंधन करना चाहिए, जिसमे उद्धव ठाकरे 2.5 साल के लिए मुख्यमंत्री और बाकी के समय के लिए देवेंद्र फडणवीस मुख्यमंत्री बन सकते हैं।

Booking.com

SUBSCRIBE TO OUR NEWSLETTER