Rajasthan News / RPSC भर्ती के लिए कांग्रेस नेता ने लिए 7.5 लाख- डील करने वाले तीन दलाल भी गिरफ्तार

Zoom News : Jul 16, 2023, 12:17 AM
Rajasthan News: जयपुर एसीबी और सीकर की टीम ने शनिवार को कांग्रेस नेता गोपाल केसावत सहित चार दलालों को साढ़े 18 लाख की रिश्वत लेते गिरफ्तार किया है। रिश्वत की रकम आरपीएससी की भर्ती परीक्षा में नौकरी लगाने के लिए मांगी गई थी। सीकर एसीबी को इस संबंध में पीड़ित से शिकायत मिली थी। एसीबी ने पूरे मामले की जांच की। जांच में सामने आया कि रिश्वत RPSC में EO (एग्जीक्यूटिव ऑफिसर) की भर्ती के नाम पर मांगी गई थी। कुल 40 लाख रुपए मांगे गए थे। ACB के सत्यापन (जांच) में 25 लाख में डील फाइनल हुई।

शुक्रवार को सीकर में दलाल अनिल कुमार और ब्रह्मप्रकाश को 18.50 लाख रिश्वत लेते गिरफ्तार किया गया। इस 18.5 लाख रुपए में से 7.5 लाख रुपए शिकायतकर्ता को वापस देते हुए जयपुर में राजस्थान राज्य विमुक्त, घुमंतू व अर्द्धघुमंतू कल्याण बोर्ड के पूर्व चेयरमैन गोपाल केसावत ​को देने के लिए कहा गया।​​​​​​ इस पूरी कार्रवाई को गोपनीय रखा गया।

दूसरी तरफ दलाल अनिल कुमार और ब्रह्मप्रकाश पास में बचे हुए 11 लाख में से शुक्रवार रात ही सीकर में दलाल रविन्द्र शर्मा पुत्र बलराम को 7 लाख 50 हजार रुपए रिश्वत के देने पहुंचे। यहां एसीबी ने रविंद्र को भी गिरफ्तार कर लिया।

इसके बाद शिकायतकर्ता रिश्वत के 7.50 लाख रुपए जयपुर के प्रताप नगर में राजस्थान राज्य विमुक्त, घुमंतू व अर्द्धघुमंतू कल्याण बोर्ड के पूर्व चेयरमैन गोपाल केसावत के पास लेकर पहुंचा। केसावत को भी एसीबी ने शनिवार को रिश्वत की राशि लेते हुए गिरफ्तार किया। आरोपियों से अभी तक हुई पूछताछ में आरपीएससी के किसी सदस्य और अधिकारी कर्मचारी के मिलीभगत होने की जानकारी सामने नहीं आई हैं।

आरोपियों के ठिकानों पर चल रही सर्च

एसीबी के अधिकारियों ने बताया- चारों आरोपियों को गिरफ्तार कर उनके पास से रिश्वत की राशि को बरामद कर लिया गया है। इन लोगों ने आरपीएससी में नौकरी लगाने का आश्वासन देकर पैसा मांगा था। इसके बाद परिवादी ने एसीबी को शिकायत की। इस पर एसीबी की सीकर और जयपुर टीम ने ट्रैप की कार्रवाई को अंजाम दिया। केसावत के आवास और अन्य ठिकानों पर अभी एसीबी की टीम सर्च कर रही है।

SUBSCRIBE TO OUR NEWSLETTER