अपराध / दूल्हे की गाड़ी पर फायरिंग कर हत्या के प्रयास में शामिल चार आरोपी गिरफ्तार

Zoom News : Dec 19, 2020, 12:51 PM
जीर की घाटी में दूल्हे की हत्या कर दुल्हन का अपहरण करने के लिए कार पर फायरिंग करने के मामले में पुलिस ने षड्यंत्र में शामिल चार आरोपियों को गिरफ्तार किया है। दूल्हे को मारने के लिए कोशिश नाकाम होने पर मुख्य आरोपी इंद्राज ने बैकअप प्लान बना रखा था। उसकी मदद के लिए अलग-अलग लोकेशन पर बाइक लेकर उसके साथी तैनात थे।

एएसपी रतनलाल भार्गव ने बताया कि दूल्हे की हत्या करने की योजना में आरोपी इंद्राज ने अपने दोस्तों को शामिल किया था। घटना के तुरंत बाद पीछा़ कर रही पुलिस टीम पर भी आरोपियों ने फायरिंग की थी। इसमें पाटन एसएचओ नरेन्द्र भडाणा बच गए थे। पुलिस की गोली से मुख्य आरोपी इंद्राज गुर्जर घायल हो गया था।

उसका पुलिस अभिरक्षा में उपचार कराया जा रहा है। उसके पास से देशी कट्‌टा व कारतूस बरामद हुए थे। वारदात में रवि उर्फ कालू सैनी, किशनलाल उर्फ कृष्ण सैनी व दो बाल अपचारी शामिल थे। उन्हें पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया था। उनके पास से दो बाइक भी बरामद हुई हैं। गुरुवार रात को पुलिस ने षड़यंत्र में शामिल कुंडाला निवासी राहुल गुर्जर, सुनील गुर्जर, विनोद गुर्जर व ओमप्रकाश गुर्जर को गिरफ्तार किया है। इनसे पूछताछ कर वारदात में शामिल लोगों की जानकारी जुटाई जा रही है।

अलग-अलग जगह से पकड़े गए आरोपी, आपराधिक रिकॉर्ड खंगाल रही पुलिस

फायरिंग की वारदात के बाद से आरोपी अलग-अलग ठिकानों पर छिपे हुए थे। सीआई लालसिंह यादव व पाटन एसएचओ नरेन्द्र भडाणा की टीम ने लादीकाबास के माइनिंग क्षेत्र से आरोपी विनोद व सुनील को पकड़ा। वहीं कुंडाला के रायवाला से राहुल व ओमप्रकाश को पकड़ा गया। अब पुलिस इनके साथियों की जानकारी भी जुटा रही है। सोशल मीडिया पर सक्रिय इस गैंग के सदस्यों का रिकॉर्ड भी खंगाला जा रहा है।

अय्याशी व फिल्मी जुनून में की वारदात: अब तक की पुलिस जांच में सामने आया कि आरोपी लो-प्रोफाइल के हैं। इनका कोई आपराधिक रिकॉर्ड नहीं है। अय्याशी व फिल्मी जुनून में एक तरफा प्यार के चलते वारदात को अंजाम दिया। मुख्य आरोपी इंद्राज गुर्जर (23) ने अपने से छोटे साथियों को षड़यंत्र में शामिल किया। सभी स्कूल व कॉलेज में पढ़ने वाले हैं। इनमें दो बाल अपचारी भी हैं। आरोपी ओमप्रकाश (20) 12वीं कर रहा है। विनोद (19) 12वीं, राहुल (19) 11वीं, सुनील(20) प्रथम वर्ष बीए, कृष्ण कुमार बीए व कालू सैनी 10वीं में पढ़ रहे हैं।

गुजरात भागने के प्रयास में थे आरोपी

सीआई ने बताया कि फायरिंग की घटना के बाद आरोपी इंद्राज गुर्जर अपने साथियों के साथ गुजरात भागने के प्रयास में था। उसने किसी मिलने वाले से 1500 रुपए उधार मांगे थे। उसी के इंतजार में बाराधूणी पर बैठे थे। इसी दौरान पुलिस से मुठभेड़ हुई थी।

SUBSCRIBE TO OUR NEWSLETTER