JAIPUR / नेता प्रतिपक्ष गुलाब चंद कटारिया ने दी इस्तीफा देने की धमकी, दो गुटों में बंटी बीजेपी

Zoom News : Feb 25, 2021, 12:05 PM
राजस्थान भाजपा दो गुटों में बंटती नजर आ रही है। पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे गुट और पार्टी के अन्य नेताओं के बीच झगड़ा सुलझने का नाम नहीं ले रहा है। इस बीच, विपक्ष के नेता गुलाब चंद कटारिया ने भी इस्तीफा देने की बात कही। दरअसल, वसुंधरा गुट के विधायकों के समझाने के बाद भाजपा के प्रदेश प्रभारी अरुण सिंह दिल्ली गए। ऐसा लग रहा था कि मामला सुलझ गया है लेकिन एक बार फिर विवाद हो गया। विधानसभा में विधायक दल की बैठक में वसुंधरा राजे के कट्टर समर्थक माने जाने वाले कैलाश मेघवाल ने विपक्ष के नेता गुलाबचंद कटारिया पर पक्षपात का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि विपक्ष के नेता विधानसभा में बोलने के लिए लोगों की मनमानी करते हैं।

विधायक मेघवाल ने कहा कि गुलाबचंद कटारिया दो पद संभाल रहे हैं। आखिर बीजेपी विधानसभा में अपना व्हिप क्यों नहीं बना रही है। गुलाब चंद कटारिया को एक पद छोड़ना चाहिए। इस दौरान पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे भी मौजूद थीं, लेकिन उन्होंने कुछ नहीं कहा।

मेघवाल के आरोपों से नाराज गुलाबचंद कटारिया ने कहा कि मुझे पद से कोई लगाव नहीं है। जिसने यह जिम्मेदारी दी है, उससे पूछो। मैं दो मिनट में इस्तीफा दे दूंगा। लेकिन जब तक जिम्मेदारी है, मैं वफादारी से खेलूंगा।

कटारिया ने कहा कि जिन लोगों ने पत्र लिखा है, वे बजट पर बोलने वाले पहले व्यक्ति होंगे। विधानसभा में बोलने के लिए रातों को काला करना पड़ता है। आप की तरह नहीं जो आधे घंटे के लिए विधानसभा में पर्यटन के लिए आते हैं और जाते हैं।

दरअसल, वसुंधरा गुट के कई विधायकों ने भाजपा के शीर्ष नेताओं को पत्र लिखकर आरोप लगाया था कि पार्टी का एक धड़ा उन्हें विधानसभा में बोलने नहीं देता। जिसके बाद, राजस्थान भाजपा प्रभारी अरुण सिंह ने वसुंधरा समूह के सभी विधायकों को बुलाया और समझाया कि उन्हें पार्टी में अनुशासन बनाए रखना चाहिए। लेकिन एक बार फिर विवाद खड़ा हो गया।

SUBSCRIBE TO OUR NEWSLETTER