नई दिल्ली / टीडीपी व आरएलएसपी का एनडीए छोड़ना चिंता की बात, बैठक में शिवसेना की कमी खली: चिराग

punjab kesari : Nov 17, 2019, 06:41 PM

लोकजन शक्ति पार्टी (लोजपा) के नवनियुक्त प्रमुख चिराग पासवान ने रविवार को कहा कि गठबंधन के घटक दलों के बीच बेहतर समन्वय के लिए राजग संयोजक की नियुक्ति होनी चाहिए। पासवान ने संसद के शीतकालीन सत्र से पहले राजग की एक बैठक के बाद कहा कि बैठक में शिवसेना की अनुपस्थिति को महसूस किया गया क्योंकि यह पार्टी राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) के सबसे पुराने सदस्यों में से एक थी।

उन्होंने कहा, ‘‘गठबंधन के घटक दलों के बीच बेहतर समन्वय के लिए राजग के संयोजक की नियुक्ति की जानी चाहिए।’’ उन्होंने कहा कि यह चिंता की बात है कि पहले तेलुगू देशम पार्टी ने गठबंधन छोड़ा और इसके बाद राष्ट्रीय लोक समता पार्टी ने ऐसा किया। पासवान ने कहा, ‘‘लेकिन हम सभी (सहयोगी) आगामी सत्र में एक साथ मिलकर काम करेंगे और इस तरह की और बैठकें होनी चाहिए।’’