Rajasthan Assembly / राजेन्द्र राठौड़ को विधानसभा से किया निष्कासित, हंगामा, सदन आधे घंटे के लिए स्थगित, बीजेपी बैठी धरने पर

Zoom News : Aug 24, 2020, 01:41 PM
जयपुर | राजस्थान विधानसभा (Rajasthan Assembly) में सोमवार को सदन की कार्रवाई के दौरान हंगामा होने पर विधानसभा अध्यक्ष सीपी जोशी (Vidhansabha Speaker CP Joshi) ने प्रतिपक्ष के उप नेता राजेन्द्र राठौड़ (Rajendra Rathore) को सदन से इस सत्र के लिए निष्कासित कर कर दिया। उन्होंने यह कार्रवाई संसदीय कार्यमंत्री शांति धारीवाल (Shanti Dhariwal) के प्रस्ताव पर की।

राजस्थान विधानसभा में भिखारियों के पुनर्वास पर आए बिल पर जब राजसमंद विधायक श्रीमती किरण माहेश्वरी बोलने के लिए खड़ी हुईं तो अध्यक्ष ने उन्हें सिर्फ विधायन के तय मुद्दे पर ही बोलने को कहा। कुछ देर माहेश्वरी से भी अध्यक्ष के साथ हल्की बहस हुई। उन्होंने बाद में मदन दिलावर को बोलने के लिए कहा, लेकिन स्थिति यथावत रही। मदन दिलावर ने कहा भिखारियों के पुनर्वास के लिए क्या व्यवस्थाएं की गई हैं, शेल्टर कहां तो अध्यक्ष ने विधायन का हवाला देते हुए कहा कि आप सिर्फ विषय पर बोलें। इसके बाद हंगामा शुरू हो गया।

अध्यक्ष ने बिल पास करवाने के बाद अगले बिल के लिए पुकारा तो प्रतिपक्ष के उप ​नेता समेत सभी सदस्य वैल में आने लगे तो सीपी जोशी ने राजेन्द्र राठौड़ को निष्कासित करने का प्रस्ताव मांगा। शांति धारीवाल ने इस सत्र के लिए उन्हें निष्कासित करने का प्रस्ताव रखा, इस पर तुरंत प्रभाव ने उन्हें सदन से निष्कासित करते हुए सदन को आधे घंटे के लिए स्थगित कर दिया। 

इससे पहले कार्य सलाहकार समिति की बैठक की गई। जिसमें सदन में होने वाले कामकाज पर विचार-विमर्श हुआ। प्रस्तावों पर चर्चा के दौरान भाजपा ने जमकर हंगामा किया। उन्होंने कहा की उन्हें पक्ष नहीं रखने दिया जा रहा है। हंगामे के दौरान स्पीकर के कहने पर शांति धारीवाल द्वारा उप नेता प्रतिपक्ष को सदन से बाहर करने का प्रस्ताव लेकर आए। जिसे ध्वनि मत से पारित भी कर दिया गया। हंगामे के बीच सदन को 12.41 पर आधे घंटे के लिए स्थगित कर दिया गया। वहीं, भाजपा के विधायक सदन में भी धरने पर बैठ गए।

Booking.com

SUBSCRIBE TO OUR NEWSLETTER